बड़ी खबर: दस्तावेजों की कमी के कारण चुनौतियां नहीं काटी जाएंगी, सरकार ने जारी किए नए नियम

मोदी सरकार ने देश भर में नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू किया है। जिसके बाद देश के विभिन्न स्थानों पर लोगों के भारी चालान काटे जा रहे हैं। एक तरफ जहां लोग इसे सुरक्षा के लिए सही मान रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ लोगों में इसको लेकर काफी गुस्सा है। इस समय लोगों के लिए बड़ी खबर आई है। जिसके अनुसार, यदि कोई दस्तावेज नहीं हैं, तो आपका चालान नहीं काटा जाएगा। यह नया फरमान सरकार ने जारी किया है।

कुछ समय से लोग शिकायत कर रहे हैं। जिसमें यह कहा जा रहा है कि डिजीलॉकर या एम ट्रांसपोर्ट ऐप में वाहन का आरसी, लाइसेंस, बीमा और पीयूसी रखने के बाद भी ट्रैफिक पुलिस इसे वैध नहीं मान रही है। और उनका चालान काटा जा रहा है। जिसके कारण लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

अब चालान नहीं काटा जाएगा

ऐसे में लोगों की समस्या को समझते हुए केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय ने सभी राज्य सरकारों और सभी राज्यों की पुलिस को एक एडवाइजरी जारी की है। जिसके अनुसार यदि कोई व्यक्ति डिजीलॉकर या ट्रांसपोर्ट एप में दस्तावेज आरसी, ड्राइविंग लाइसेंस, पीयूसी और मोबाइल फोन में बीमा दिखाता है। तो इसे वैध माना जाना चाहिए और कोई भी चालान नहीं काटा जाना चाहिए। यदि व्यक्ति के पास अपना फोन नहीं है, तो, इस मामले में, चालान काटा नहीं जाना चाहिए। बल्कि, पुलिस के साथ फोन में ई-चालान ऐप या एम ट्रांसपोर्ट ऐप की जानकारी को सत्यापित करके ही चालान करें।


वाहन के दस्तावेज नहीं होने पर चालान नहीं काटा जाएगा। जिसके लिए यह शर्त रखी गई है। जिसके मुताबिक, अगर आपको ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करते हुए पाया जाता है, जैसे कि हेलमेट नहीं पहनना, सीट बेल्ट नहीं पहनना और रेडलाइट जंप करना, तो आपका चालान काटा जाएगा।

Related News

Leave a Comment