राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष की विपक्ष को कड़े शब्दों में चेतावनी, कहा- नहीं करें सदन में इस तरह का व्यवहार....

इंटरनेट डेस्क। राजस्थान विधानसभा में आज विपक्ष का एक नया ही चेहरा देखने को मिला। यहां विपक्ष के नेताओं ने आज विधानसभा में प्रश्नकाल का बहिष्कार किया। पूरक प्रश्न के मामले में अध्यक्ष की व्यवस्था को लेकर भाजपा के सदस्यों ने प्रश्नकाल का बहिष्कार करने का फैसला किया।

पीडब्ल्यूडी मंत्री सचिन पायलट ने अपने विभाग की ली अहम बैठक, कई मुद्दों पर हुई अधिकारियों से चर्चा

इस दौरान प्रश्नकाल में भाजपा के सदस्य अनुपस्थित रहे और जैसे ही शून्यकाल शुरु हुआ तो भाजपा के नेता नारे लगाते हुए सदन में आए।

इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष डाॅ. सीपी जोशी ने भाजपा सदस्यों को नारेबाजी नहीं करने की चेतावनी दी और कहा की सदन में शांति बनाये रखें। इसके जवाब में प्रतिपक्ष के उपनेता राजेंद्र सिंह राठौड़ ने कहा कि सदन ऐसे नहीं चलेगा तब अध्यक्ष ने जवाब दिया कि आप सदन में नहीं आये तो भी सदन चलेगा।

मुख्यमंत्री ने लिया बड़ा निर्णय, अब विधवा विवाह के लिए उपहार राशि के रूप में मिलेंगे इतने हजार रुपए

गौरतलब हो कि विधानसभा में प्रश्नकाल में प्रश्नकर्ता के अलावा दूसरे सदस्यों को भी पूरक प्रश्न करने की छूट थी, लेकिन इस पर अंकुश लगने से भाजपा सदस्य नाराज हो गये और प्रश्नकाल का बहिष्कार करने का निर्णय लिया।

Related News

Leave a Comment