नक्सली हमले के शिकार विधायक की पत्नी को BJP ने दिया टिकट

नई दिल्ली।  छत्तीसगढ़ की दंतेवाड़ा विधानसभा सीट में 23 सितंबर को होने वाले उपचुनाव के लिए विपक्षी भारतीय जनता पार्टी ने ओजस्वी मंडावी को अपना प्रत्याशी बनाया है। ओजस्वी मंडावी नक्सली हमले में मारे गए विधायक भीमा मंडावी की पत्नी हैं।

ओजस्वी मंडावी ने सोमवार को दंतेवाड़ा कलेक्ट्रेट में अपना नामांकन भरा। वहीं, नामांकन की अन्य प्रतियां ओजस्वी मंडावी 4 सितंबर को जमा करेंगे। ओजस्वी ने दंतवोड़ा कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा के समझ प्रस्तुत होकर सोमवार को अपना नामांकन दा’खिल किया। इस दौरान उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि “जिस जगह पर मेरे पति की श’हादत हुई है, वहीं से ही अपना चुनावी शं’खनाद करूंगी।”

बता दें कि दंतेवाड़ा के पूर्व विधायक विधायक भीमा मंडावी की लोकसभा चुनाव 2019 के पहले चरण के मतदान से दो दिन पहले ह’त्या कर दी गई थी। भीमा मंडावी एक चुनावी सभा से लौट रहे थे, इसी दौरान श्यामगिरी गांव के पास उनके काफिले को न’क्स’लियों ने नि’शाना बना लिया था। इस हा’दसे में 4 सु’रक्षा जवान और ड्राइवर की मौ’त हो गई थी। विधायक अपनी बुलेटप्रूफ गाड़ी में सवार थे जबकि उनके साथ दो और गाड़ियां ही थीं। विधायक के काफिले को 25 बाइक पर सवार जिला पुलिस बल के पचास जवान एस्कोर्ट कर रहे थे।

भाजपा ने स्वर्गीय विधायक की पत्नी को टिकट देकर एक प्रकार से सहानुभूति कार्ड खेला है। कांग्रेस ने भी न’क्सली ह’मले में मा’रे गए दिग्गज नेता महेंद्र कर्मा की पत्नी और पूर्व विधायक देवती कर्मा को अपना प्रत्याशी बनाया है। चुनाव के नतीजे 27 सितंबर को आएंगे।

Related News

Leave a Comment