राजस्थान को लेकर बसपा प्रमुख मायावती ने उठा लिया ये बड़ा कदम, इन्हें सौंपी प्रदेश की जिम्मेदारी

जयपुर। राजस्थान में बसपा के सभी छह विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने और पार्टी कार्यालय में कार्यकर्ताओं के बीच मारपीट की घटना के बाद बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने बड़ा कदम उठाया है। इसके तहत बसपा प्रमुख ने राजस्थान में पार्टी की कार्यकारिणी भंग कर दी है।

राजस्थान के इस जिले की ग्राम सीमाओं में हुआ परिवर्तन

बहुजन समाज पार्टी के राजस्थान प्रदेश प्रभारी भगवान सिंह बाबा से इस प्रकार की जानकारी मिली है। भगवान सिंह बाबा ने बताया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती के निर्देश पर राजस्थान में पार्टी की संपूर्ण कार्यकारिणी भंग कर दी गई है।

युवा उद्यमियों को प्रोत्साहित करने के लिए जल्द ही ये पॉलिसी लाने जा रही है राजस्थान सरकार

इसके बाद बसपा के राष्ट्रीय समन्वयक रामजी गौतम एवं राज्यसभा के पूर्व सदस्य मुनकाद अली को राजस्थान की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

गौरतलब है बहुजन समाज पार्टी प्रमुख के सभी छह विधायक राजेंद्र सिंह, जोगेंद्र सिंह अवाना, वाजिब अली, लखन सिंह मीणा, संदीप यादव तथा दीपचंद ने 16 सितंबर को कांग्रेस का हाथ थाम लिया था। इसके बाद पार्टी की प्रदेश स्तरीय बैठक में कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए थे।

Related News

Leave a Comment