कश्मीर पर बोले चिदंबरम- 'मैंने पहले ही आगाह किया था'

पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने जम्मू-कश्मीर में प्रमुख राजनीतिक दलों के नेताओं की नजरबंदी की आलोचना करते हुए सोमवार को कहा कि उन्होंने राज्य में कोई अनुचित कदम उठाये जाने के प्रति पहले ही आगाह किया था।
चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा, मैंने जम्मू-कश्मीर में कोई अनुचित कदम उठाये जाने के प्रति पहले ही आगाह किया था। ऐसा लगता है कि सरकार बड़ा कदम उठाने के लिए प्रतिबद्ध है। आज का दिन बीतने से पहले हमें पता चल जायेगा कि क्या जम्मू-कश्मीर में कोई बड़ा संकट आने वाला है।
उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के नेताओं की नजरबंदी इस बात का संकेत है कि सरकार अपना मकसद पूरा करने के लिए सभी लोकतांत्रिक नियमों और सिद्धांतों का उल्लंघन करेगी। उन्होंने कहा, मैं नजरबंदी की निंदा करता हूं।
गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में निषेधाज्ञा लागू कर दी गयी है। सरकार ने वहां 25 हजार से अधिक अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती की है। गत शुक्रवार से अमरनाथ यात्रा स्थगित कर दी गयी है तथा राज्य में गये पर्यटकों को वापस लौटने को कहा गया है। लोगों को घरों से न निकलने को कहा गया है। कश्मीर विश्वविद्यालय की परीक्षाएं स्थगित कर दी गयी हैं। स्कूल-कॉलेज बंद कर दिये गये हैं। देर रात को कुछ राजनीतिक दलों के नेताओं को घरों से नहीं निकलने को कहा गया।

Related News

Leave a Comment