आप से वार्ता विफल, दिल्ली में अकेले चुनाव लड़ेगी कांग्रेस

कांग्रेस राष्ट्रीय राजधानी की सभी सात सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े कर अपने दम पर चुनाव लड़ेगी। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने शनिवार को यह जानकारी दी। पहले दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) के साथ गठबंधन की कोशिशें चल रही थीं। कई दौर की बैठकों के बावजूद दोनों पार्टियों में सहमति नहीं बन पाई। नेता ने कहा, आप के साथ बातचीत विफल हो गई है और हम दिल्ली में सभी लोकसभा सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेंगे। उम्मीदवारों के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, पार्टी ने नई दिल्ली से पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय माकन को, चांदनी चौक से पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को, पश्चिमी दिल्ली सीट से पूर्व ओलंपियन सुशील कुमार और पूर्वी दिल्ली से अरविंदर कुमार लवली को उम्मीदवार बनाया है।
उन्होंने कहा कि पार्टी दक्षिणी दिल्ली से रमेश कुमार, उत्तर-पश्चिम दिल्ली से राज कुमार चौहान और उत्तर-पूर्व दिल्ली से जे.पी. अग्रवाल को खड़ा करेगी। भाजपा ने 2014 के लोकसभा चुनाव में यहां की सभी सातों सीटों पर कब्जा किया था। 15 अप्रैल को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आप के राष्ट्रीय संयोजक व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर राष्ट्रीय राजधानी में सीट बंटवारे के मसले पर यू-टर्न लेने का आरोप लगाया था। कांग्रेस अध्यक्ष के बयान के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री ने आश्चर्य जताते हुए कहा था कि कांग्रेस किस यू-टर्न की बात कर रही है, जबकि बातचीत जारी है। दिल्ली में 12 मई को मतदान होना है।

Related News

Leave a Comment