ऑटो चालक की गुंड़ागर्दी DSP को पीटा, गंभीर

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले के गांधी चौक से रेलवे स्टेशन आ रहे एक डीएसपी को ऑटो चालकों ने मिलकर बेरहमी से पीटा है इतना पीटा की वे बेहोश हो गए और मरा हुआ समझकर उसे छोड़कर भाग निकले डीएसपी को गंभीर अवस्था में इलाज के लिए सिम्स बिलासपुर में भर्ती किया गया है जहां उनकी हालत नाजुक बताई जा रही है पुलिस हमलावर ऑटो चालकों की खोजबीन शुरू कर दी है।

बालोद निवासी भूपत सिंह धनेश्वरी कोरबा में डीएसपी के पद पर पदस्थ हैं जो अभी वर्तमान में उरगा थाना में अपनी सेवा दे रहे हैं। बताया जाता है कि भूपत सिंह अपनी बहन को दुर्ग से लेकर अमरकंटक एक्सप्रेस में बिलासपुर पहुंचे हुए थे जहां रात को अपनी बहन को लेकर रेलवे स्टेशन से गांधी चौक जा रहे थे इस दौरान ऑटो वाले ने अपनी ऑटो में अधिक सवारी बैठाई और डीएसपी को ऑटो के आगे बैठने के लिए कहा तो उन्होंने सामने बैठने से इंकार कर दिया और जिसे लेकर ऑटोवाला गुस्से से आगबबूला हो गया और डीएसपी भूपत धनेश्वरी से वाद-विवाद करने लगा।

जिसके बाद डीएसपी भूपत धनेश्वरी ने ऑटो से उतर कर दूसरे ऑटो में बैठ कर आ रहे थे इस दौरान पहले ऑटोवाला अपने आधा दर्जन साथियों के साथ पहुंचा और बीएसपी भूपत सिंह की जमकर हाथ मुक्का लाठी से पिटाई कर दी जहां डीएसपी खाकर गिर पड़े डीएसपी को मरा हुआ समझकर ऑटो चालक उसे मौके पर ही छोड़कर फरार हो गए।

वही मौके पर मौजूद डीएसपी की बहन उसके दोस्त को भी उन्होंने बेरहमी से पीटा था जिसके बाद डीएसपी की बहन व दोस्त ने किसी तरह उसे उपचार के लिए सिम्स लेकर पहुंचे जहां मामले की शिकायत की गई मामला संज्ञान में आते ही पुलिस के वरिष्ठ अफसरों ने मामले की गंभीरता से लिया और हमलावर ऑटो चालकों की खोजबीन शुरू कर दी है।

जिस तरह से ऑटो चालकों ने डीएसपी पर हमला किया है इससे साफ है कि उनके हौसले कितने बुलंद हैं और वह पैसे के लिए कुछ भी कर सकते हैं या हाल बिलासपुर का नहीं और वह का भी है ऑटो चालक यहां भी अपनी गुंडागर्दी करते हैं और सवारियों के साथ भी मारपीट करते हैं।

इस तरह के कई मामले संज्ञान में आ चुके हैं इसके बाद भी पुलिस द्वारा इनके खिलाफ ठोस कार्रवाई नहीं की जाती है जिसके चलते इनकी हौसले बुलंद है पुलिस को इनके खिलाफ सख्ती से कार्रवाई करनी चाहिए।

Related News

Leave a Comment