अल्लाह की रज़ा को मुसलमानों ने की कुर्बानी, सादगी से मनायी जा रही बकरीद

ईद उल अज़हा का त्यौहार सादगी के साथ मुल्क भर में मनाया जा रहा है। खुदा की रज़ा के लिए हर मुसलमान अपने वक्त, पैसा और जिंदगी से त्याग की भावना के साथ सुकून की सांसें लेता दिखा। 
उधर बच्चों में भी ईद को लेकर बेहद खुशी दिखाई दी। ईद की नमाज में लोगों ने रो-रोकर रहमत व अमन शांति की दुआएं मांगी। कुर्बानी का सिलसिला कल मंगलवार व परसों बुधवार को भी जारी रहेगा। 
ईद उल अज़हा का त्यौहार शहर व ग्रामीण क्षेत्र में बेहद सादगी के साथ मनाया गया। जैसा की इस्लाम धर्म के त्यौहारों में अमन शांति दिखाई देती है, वैसे ही सोमवार को ईद उल अज़हा पर भी बिना किसी दिखावे के मुसलमानों ने त्याग की भावना के साथ अल्लाह की रज़ा के लिए कुर्बानी की। 
जबकि इससे पहले नमाज में रो-रोकर रहमत व मुल्क में अमन शांति की दुआएं मांगी। इस दौरान ईदगाह व मस्जिदें नमाजियों से फुल रहीं। नमाज पढ़ने के बाद सभी अपने-अपने घरों को रवाना हुए और जानवरों की कुर्बानी दी। इसके बाद पूरे दिन व देर रात तक दावतों का सिलसिला चलता रहा। 
इसके साथ ही गरीबों व मिस्कीनों को भी कुर्बानी का एक हिस्सा दान करके उन्हें भी ईद की खुशियां नसीब करने में मुसलमान बढ़-चढ़ कर आगे आए। इसके अलावा बच्चों की खुशी तो देखते ही बन रही थी। उन मासूम आंखों से ज्यादा खुशी तो कहीं दिखाई ही नहीं दी। 
जिलहिज्जा की 11 व 12 तारीख यानि मंगलवार व बुधवार को भी कुर्बानी का सिलसिला जारी रहेगा। इन दोनों दिन भी कुर्बानी का सवाब बराबर रहता है।

Related News

Leave a Comment