आदिवासी महिला को जंजीरों से बांधकर किया गैंगरेप

नई दिल्ली। राजस्थान के आदिवासी जिले प्रतापगढ़ में एक आदिवासी महिला को उसके पति और रिश्तेदारों ने अगवा किया। बाद में उसे जंजीरों से बांधकर दो दिन तक उससे गैंगरेप किया गया।

पीड़िता ने जिला पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन देकर उसे न्याय दिलाने की मांग की है। प्रतापगढ़ जिले के घंटाली थाना इलाके की रहने वाली पीड़िता अपने पति से एक साल से अलग रह रही थी। पीड़िता का आरोप है कि शराबी पति उससे मारपीट करता रहता था। जागरण की रिपोर्ट के अनुसार पीड़िता ने बताया कि 28 जुलाई वह अपने माता-पिता के साथ घर में सो रही थी उसी दौरान उसका पति सात-आठ रिश्तेदारों के साथ चार-पांच बाइक पर सवार होकर आया। पति और उसके रिश्तेदार माता पिता को जान से मारने की धमकी देकर उसे जबरन उठा ले गए।

पीड़िता ने आरोप लगाया है कि उसे ससुराल में ले जाकर जंजीरों से बांध दिया और वहां पांच लोगों द्वारा सामूहिक दुष्कर्म किया गया। दो दिन बाद वह शौच के बहाने जंजीरों से जकड़ी हालत में बाहर निकली और किसी तरह अपने पिता के पास पहुंच गई।


उसके बाद पीड़िता और उसके माता- पिता शुक्रवार को प्रतापगढ़ पहुंचे। न्यायालय परिसर में पहुंचने के दौरान भी महिला के पैरों में भरी जंजीर बंधी हुई थी। पीड़िता पुलिस अधीक्षक के पास पहुंची उसी दौरान उसका पति और उसके रिश्तेदार भी वहां पहुंच गए। पति और उसके रिश्तेदारों ने पीड़िता के माता-पिता के खिलाफ पीड़िता का अन्य जगह नाता करने की मंशा को लेकर परिवाद पेश किया है।

Related News

Leave a Comment