GB रोड कोठे से छुड़ाई गई 7 साल की बच्ची

नई दिल्ली। 7 साल की एक बच्ची को जीबी रोड के एक कोठे से दिल्ली महिला आयोग और दिल्ली पुलिस ने मिलकर छुड़ाया है।

बच्ची की मां ने आयोग में शिकायत दर्ज की थी कि उससे जबरन देह व्यापार करवाया गया और उसकी बच्ची को कोठे की मालकिन ने छीन लिया। महिला की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर कोठे की मालकिन को गिरफ्तार कर लिया गया है।

एनबीटी की रिपोर्ट के अनुसार आयोग का कहना है कि असम की रहने वाली महिला ने उन्हें बताया कि असम से दीपक नाम का एक शख्स नौकरी दिलाने के नाम पर महिला, उसके पति और बेटी को अपने साथ दिल्ली लाया। पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंचे तो उसने उन्हें फराह नाम की एक महिला से मिलवाया।

फराह और दीपक उन्हें मजनूं का टीला ले गए, जहां दीपक रहता था। फराह ने महिला से होटल में नौकरी दिलवाने की बात की। उसने बेटी को स्कूल में दाखिला दिलाने के बहाने उससे कुछ कागजों पर साइन करवाए और उसके पैन कार्ड, आधार कार्ड, बैंक पासबुक समेत सभी दस्तावेज ले लिए।

महिला ने बताया कि 2-3 दिनों के बाद फराह उसे उसकी बच्ची के साथ जीबी रोड के कोठा नंबर 40 में ले आई। महिला को बताया गया कि उसकी बेटी को स्कूल में भर्ती करवाएंगे और एक हॉस्टल में रखेंगे लेकिन बच्ची को महिमा नाम की एक महिला के घर पर रखा गया।

वहीं, फराह ने उसे जबरन देह व्यापार में धकेल दिया और नहीं मानने पर बेटी और पति को मारने की धमकी दी। महिला ने बताया कि जीबी रोड पर उसके साथ कई दिनों तक बलात्कार किया गया और 3 जुलाई से लेकर 30 जुलाई तक तक रोजाना 15-20 'कस्टमर' के पास भेजा गया। 

Related News

Leave a Comment