तीन तलाक़ बिल का असली मकसद मुस्लिम परिवारों का विनाश करना: गुलाम नबी आज़ाद

राज्यसभा में तीन तलाक बिल पर बोलते हुए नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद ने कहा कि मुस्लिम परिवारों को तोड़ना इस बिल का असल मकसद हैं. उन्होंने कहा कि सरकार मुस्लिम महिलाओं के नाम मुसलमानों को निशाना बना रही है.

उन्होंने कहा कि इस बिल के जरिए सरकार घर के चिराग से ही घर में आग लगाना चाहती है. घर भी जल जाएगा और किसी को आपत्ति भी नहीं होगी. दो समुदायों की लड़ाई में केस बनता है लेकिन बिजली के शॉट में किसी के जलने पर कोई केस नहीं बनता है.

उन्होंने कहा कि यह राजनीतिक रूप से प्रेरित बिल है. पति-पत्नी अपने-अपने लिए वकील हायर करेंगे. वकील को पैसे देने के लिए जमीन बेची जाएगी. जेल का समय खत्म होने पर दोनों दिवालिया हो जाएंगे.

Related News

Leave a Comment