जानलेवा हो सकता हैं हेड इंजरी

इंटरनेट न्यूज शरीर के प्रत्येक कार्य का संचालन मस्तिष्क से होता हैं।इसमें किसी भी प्रकार की गड़बड़ी या चोट जीवन के लिए खतरनाक हो सकती हैं। इस लिए सिर में लगी चोट को नजर अंदाज नहीं करना चाहिए। सिर में लगी इस चोट को हेड इंजरी कहते हैं।सिर में लगी इस चोट से हड्डी का फ्रैक्चर होना,मस्तिष्क का कोई भाग क्षतिग्रस्त होना,ब्लीडिंग या सूजन आना गंभीर हेड इंजरी के लक्षण होते हैं। जो जानलेवा भी हो सकता हैं।

हेड इंजरी के उपाय:

हेड इंजरी हो जाने पर मरीज को हिलाए-डुलाएं नहीं और देखें कि उसकी सांसें सामान्य है या नहीं। अगर मरीज को सांस लेने में परेशानी हो रही है तो मुंह से सांस दें। मरीज को उल्टी हो रही है तो उसे आराम से एक करवट लिटा दें। ब्लीडिंग हो रही है तो साफ कपड़े से बांधें ताकि ब्लीडिंग रुके और तुरंत पास के किसी अच्छे हॉस्पिटल में मरीज को भर्ती कराये।

दुष्प्रभाव:

चोट लगने के कारण ब्रेन के अंदर ब्लीडिंग होने से ब्रेन हैमरेज ,याद्दाश्त, लकवा के साथ मरीज की जान भी जा सकती

Related News

Leave a Comment