‘हनीट्रैप’ के हाईप्रोफाइल रैकेट का पर्दाफाश

नई दिल्ली। पुलिस और एटीएस ने हनीट्रैप में फंसाकर लोगों को ब्लैकमेल करने के आरोप में भोपाल से 3 युवतियों और 1 युवक को गिरफ्तार किया है।

 मामले में इंदौर से भी पुलिस ने 2 युवतियों को गिफ्तार किया है. इंदौर नगर निगम के एक बड़े अधिकारी की शिकायत पर पुलिस के इंटेलिजेंस विभाग ने कार्रवाई करते हुए भोपाल-इंदौर से इन्हें गिरफ्तार किया है. इस पूरे मामले में जब युवतियों से पूछताछ की गई तो उन्होंने मध्य प्रदेश के कई बड़े नेताओं के नामों का खुलासा भी किया है।

इंटेलिजेंस विभाग की टीम ने बुधवार देर रात भोपाल के पॉश इलाके रिवेरा टाउन और अवधपुरी से इन सभी को पकड़ा. इन सभी को हिरासत में लेने के बाद देर रात तक इन युवतियों से गोविंदपुरा थाने में पूछताछ की गई।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सीएसपी गोविंदपुरा अमित कुमार सिंह ने हनीट्रैप मामले में कुछ लोगों के हिरासत में लेने की पुष्टि की. भोपाल से गिरफ्तार किए गए सभी लोगों को आगे की पूछताछ के लिए इंदौर ले जाया गया है।

हनीट्रैप के इस पूरे मामले के पीछे इंदौर कनेक्शन सामने आया है. पिछले दिनों इंदौर नगर निगम के एक बड़े अधिकारी ने पुलिस से शिकायत की थी कि एक युवती ने उनको हनीट्रैप में फंसाकर उनके कुछ आपत्तिजनक फोटो और वीडियो बना लिए हैं. युवती इन वीडियो और फोटो को वायरल करने की धमकी देकर उनसे पैसों की मांग कर रही है।


अधिकारी की शिकायत के बाद पुलिस ने ताबड़तोड़ छापेमारी कर भोपाल और इंदौर से युवतियों को हिरासत में लिया. हिरासत में ली गईं युवतियों पर आरोप है, इन्होंने हनीट्रैप में फंसाकर कई सरकारी अफसरों और नेताओं के अश्लील वीडियो बनाकर उनको ब्लैकमेल किया है. इंदौर पुलिस से मिले इनपुट के आधार पर भोपाल में पुलिस और एटीएस ने कार्रवाई की.

Related News

Leave a Comment