इस खिलाड़ी की किस्मत ने क्रिकेट में कभी नही दिया साथ, फिर भी सुनील गावस्कर मानते है अपना आदर्श...

इंटरनेट डेस्क: क्रिकेट ऐसा खेल है जंहा आपकी मेहनत और लग्न तो खेल में काम आती है जिससे आप कामयाबी की बुलदिंयो को छूंते है लेकिन किस्मत का खेल भी अनोखा है आप कितने ही मेहनत क्यों ना कर लेकिन जब तक आपकी किस्मत आपके साथ नही होगी तो आप कुछ भी कर गुजरने के काबिल नही होते है ऐसे ही एक खिलाड़ी यह भी है जिनमे हुनर फूट-फूटकर भरा था लेकिन इनकी किस्मत ने कभी इनका साथ नही दिया और टीम इंडिया के ये बेहतरीन बल्लेबाज भी इन्हे अपना आदर्श मानते है ।

जी हां बात कर रहे 750 से ज्यादा विकेट लेने वाले इस दिग्गज क्रिकेटर की जिसमें प्रतिभा की कोई कमी नही थी लेकिन उनकी किस्मत ने उनका साथ कभी नही दिया इनका नाम है राजेन्द्र गोयल । आज राजेन्द्र गोयल अपना 77 वां जन्मदिन मना रहे है राजेन्द्र का जन्म 20 सितंबर 1942 में हुआ था।

वेस्टइंडीज का ये धुंआधार क्रिकेटर जल्द बनने वाला है पिता, इस अनोखे अंदाज में शेयर की पत्नी की प्रेग्नेंसी खबर ...

1964-65 में श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट में इस खिलाड़ी ने हिस्सा लिया था, लेकिन यह अनाधिकारक टेस्ट मैच था इसके बाद जिस समय यह टीम में गए थे उस समय बिशन सिंह बेदी का परचम लहरा रहा था, ऐसे में इनको खेलने का मौका ही नही मिल पाया।

इस प्लेयर को टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी सुनील गावस्कर भी अपना आदर्श मानते है इस बात का जिक्र सुनील ने अपनी एक किताब में किया उन्होंने इस किताब में 31 आदर्श लोगों का जिक्र किया है।

सुनील गावसकर ने अपनी किताब `आइडल्स` में लिखा राजेंद्र गोयल जब अपने करियर के शवाब पर थे तो उस समय वह इन दोनों में बिशन बेदी को खेलना ही पसंद करते है यह टिप्पणी राजेंद्र गोयल की महानता को दिखाती है जहां गावस्कर राजेंद्र गोयल को बेदी से भी ज़्यादा खतरनाक गेंदबाज़ मानते थे इन दोनों को बीसीसीआई के सीके नायडू लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड के लिए भी चुना गया था। सुनील गावस्कर भी इस खिलाड़ी के मुरीद थे।

अपने इस अटपटे वीडियो की वजह से सोशल मीड़िया पर छाई कप्तान कोहली की बीवी और फिर दी ऐसी सफाई...

Related News

Leave a Comment