जब रेप को आरोपी को सउदी अरब से खुद पकड़कर भारत लाईं IPS मेरिन जोसेफ

कुछ सालों पहले जिस IPS मरीन जोसफ को देश की सबसे खूबसूरत पुलिस अफसर कहा गया वो तो सबसे बड़ी मर्दानी निकलीं। दरअसल जब केरल की IPS ऑफिसर मेरिन जोसेफ को मालूम चला कि किसी बच्ची से साथ हुए बलात्कार को पुलिस- भारतीय एजेंसियां छोटा केस समझ रही है तो उन्होंने खुद ही इस केस को हैंडल करना फैसला किया।

आज नतीजा ये कि 2 साल पहले दोस्त की भांजी के साथ बलात्कार करके भागे आरोपी को इस IPS ने सऊदी अरब में पकड़ लिया है। मामला केरल की कोल्लम की है, मेरिन जोसेफ जब वहां की पुलिस कमिश्नर बनीं तब उन्होंने बच्चों के साथ अपरा’ध की सारी फाइलें मंगवाई। फाइल जांच के दौरान उनको एक मामला ऐसा दिखा जिसका आरोपी अभी तक फरार है।

उन्होंने केस की जांच करवाई तो पता चला कि कोल्लम की एक 13 साल की बच्ची के साथ 2017 में सुनील कुमार भद्रन नामक व्यक्ति ने बला’त्कार किया है। आरोपी ने जिस बच्ची के साथ बला’त्कार किया वह उसी दोस्त की भांजी थी। बच्ची ने इस घटना की जानकारी अपने परिवार को दी जिसके बाद परिवार ने पुलिस का दरवाजा खटखटाया। इन सब के बीच बच्ची ने आत्मह’त्या कर ली। वहीं दुखद पहलू यह है कि बच्ची द्वारा आत्मह’त्या करने के बाद पुलिस को जानकारी देने के बाद बच्ची के मामा ने भी आत्मह’त्या कर ली। वहीं आरोपी का इंटरपोल इश्यु होने के बाद भी 2 साल तक उन्हें लाने में पुलिस नाकाम रही थी।


आरोपी को फरार हुए 2 साल हो गए थे, लेकिन पुलिस आरोपी तक नहीं पहुंची थी जिसकी वजह बताई जा रही थी कि पुलिस के लिए, भारतीय एजेंसियों के लिए यह एक छोटा केस था। जैसे ही इस बात की जानकारी IPS मेरिन जोसेफ को लगी उन्होंने खुद मोर्चा लिया और फिर से इंटरपोल अरब, इंडियन एम्बेसी,इंटरनेशनल इन्वेस्टीगेशन सेल जैसे एजेंसियों से संपर्क किया।

बच्ची के आरोपी को पकड़ने के लिए उन्होंने दिन रात एक कर दिए। आखिरकार खुद रियाद सऊदी अरब पहुंचकर आरोपी को पकड़कर ही दम लिया। जिसके बाद वह आरोपी को बीते रविवार भारत घसीट कर लाई। IPS मेरिन ने देश को बता दिया एक बच्ची के साथ दु’ष्कर्म कोई छोटा केस नहीं होता और न बच्चियों के साथ हुए दु’ष्कर्म का ऐसा कोई पैमाना है जो तय कर सके कि ये केस छोटा है या बड़ा। वो किसी दरिंदे को छोड़ेंगी नहीं।

Related News

Leave a Comment