जमीयत उलमा-ए-हिंद का बड़ा बयान- कश्मीर भारत का अभिन्न अंग

नई दिल्ली। आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से जम्मू-कश्मीर को लेकर सियासत गरमाई हुई है। इसी बीच जमीयत उलमा-ए-हिंद की तरफ से कश्मीर को लेकर बयान आया है।

जमीयत उलमा-ए-हिंद ने दिल्ली में अपनी आम परिषद की बैठक में प्रस्ताव पारित किया है। जमीयत उलमा-ए-हिंद ने दोहराया कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और सभी कश्मीरी हमारे हमवतन हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पारित किए गए प्रस्ताव में कहा गया है कि कोई भी अलगाववादी आंदोलन ना केवल देश के लिए बल्कि कश्मीर के लोगों के लिए भी हानिकारक है। जमीयत उलमा-ए-हिंद की तरफ से कहा गया है, 'हमें लगता है कि कश्मीरियों के लोकतांत्रिक और मानवाधिकारों की रक्षा करना हमारा राष्ट्रीय कर्तव्य है।'

मुस्लिम संगठन की तरफ से कहा गया है, 'फिर भी, यह हमारा दृढ़ विश्वास है कि उनका कल्याण भारत के साथ एकीकृत होने में निहित है। कुछ विरोधी ताकतें और पड़ोसी देश कश्मीर को बर्बाद करने पर तुले हुए हैं।'

Related News

Leave a Comment