इन वजहों से कभी मोटे क्यों नहीं होते जापान के लोग...

वैसे तो कई देशो के लोग हेल्दी और फिट रहते है लेकिन जापान के लोग सबसे ज्याद हेल्दी और फिट रहते है इसका कारण क्या है भाई ? इसका कारण यह है कि जापान के लोगों की खान-पान की आदत बहुत अच्छी होती है। जापान के लोग अपनी खान-पान की आदत को प्रतिदिन एक जैसे बनाये रखते है।इसी कारण से जापान के लोग हेल्दी और फिट रहते है।

हालही में हुए रिसर्च में यह पता लगाया गया है कि अमेरिका के लगभग 35% ओबेसिटी रेट के मुकाबले जापान में ओबेसिटी रेट महज लगभग 3% है। अब आपके मन में एक ही सवाल आ रहा होगा कि जापान के लोग ऐसा क्या खाते है जिससे मोटे नहीं होते है बल्कि फिट-फाट रहते है ? तो आज हम आपके सामने इस बात से पर्दा हटा ही देते है कि जापान के लोग क्या-क्या चीजों का सेवन करते है जिससे उनकी हेल्थ मेन्टेन रहती है।तो देर किस बात की आइये जानते पूरी बात।

फ्रेश फूड का अधिक सेवन : जापान के लोग अपनी सेहत का ख्याल रखने के लिए प्रोसेस्ड फूड के बजाय फ्रेश फूड ज्यादा खाते है, ऐसा इसलिए भाई साहब कि प्रोसेस्ड फूड में प्रिजर्वेटिव्स, केमिकल्स और ऑयल होता है जिसके कारण लोग मोटे न हो पाये। कच्ची सलाद और सी फूड का अधिक सेवन : जापान के लोगों की डाइट में कम फैट और ज्यादा फाइबर्स होते हैं।यह वजन कम करने में सहायता करता है। जापानी लोग सी फूड भी अधिक मात्रा में खाते हैं।इनमें मौजूद ओमेगा -3 फैटी एसिड हेल्दी रखता है।

धीमी आंच में या भाप में पका फ़ूड खाना : जापानी लोगों की खाने की बात ही अलग है भाई साहब, क्योकि वे कम तेल, धीमी आंच या भाप में पका फूड खाना पसंद करते हैं। आप सोच रहे होंगे कि ऐसा क्यों ? ऐसा इसलिए कि इससे उनकी डाइट में फैट नहीं बढ़ता। फूड के न्यूट्रिशन्स बरकरार रहते है और वेट भी कंट्रोल रहता है। दिन में थोड़ा-थोड़ा फ़ूड खाना : जापानी लोग अपनी सेहत को ध्यान में रखते हुए दिन में थोड़ा-थोड़ा खाना खाते है। कम खाना खाने से मेटाबॉलिज्म और डाइजेशन अच्छा रहता है और फैट और कैलोरी तेजी से बर्न होती है।

कम मात्रा में खाना : जापानी लोग भूख से थोड़ा कम खाते है इसका कारण यह है कि इससे एक्स्ट्रा कैलोरी से बचाव होता है। जापान के लोग भूख से लगभग 80% खाना खाते है। हेल्थी चाय का सेवन : जापानी लोग खासतौर पर ग्रीन टी का सेवन करते है इससे फैट बर्निंग तेज होती है और मोटापे पर कंट्रोल होता है। छोटी प्लेट में खाना : जापान के लोग छोटी प्लेट में धीरे-धीरे खाते हैं, ऐसा क्यों ? ऐसा इसलिए भाई साहब कि छोटी प्लेट में धीरे-धीरे खाने से फूड को डाइजेस्ट होने का पूरा टाइम मिल जाता है और फैट डिपॉजिट नहीं होता।

रिफाइंड फूड और मीठा कम सेवन करना : जापानी लोग अधिकतर रिफाइंड फूड और मीठा खाना कम पसंद करते है। इसकी वजह यह कि एम्प्टी कैलोरीज से बचाव होता है।पेट और कमर के आसपास चर्बी जमा नहीं होती है। ज्यादा मात्रा में ब्रेकफास्ट करना : आप सोच रहे होंगे की ब्रेकफास्ट में खूब सारा कौन खाता है भाई ? लेकिन जापानी लोग तो खाते है न, हाँ जी ! यह बिलकुल सही बात है।जापान के लोग हेवी ब्रेकफास्ट करते है जिससे दिन भर भूख कम लगती है और एनर्जी बनी रहती है और ओवरईटिंग से बचाव होता है।

स्लो और बैठकर फ़ूड खाना : वैसे तो सभी लोग बैठकर खाना खाते है लेकिन जापानी लोग विशेष रूप से बैठकर ही खाना खाते है, ऐसा क्यों भाई ? ऐसा इसलिए की बैठकर खाना खाने से डाइजेशन अच्छा होता है साथ ही मेटाबॉलिज्म प्रॉपर होता है। और फैट जमा नहीं होने की कोई प्रॉब्लम नहीं आती है। जापान के Metabo Law के अनुसार 40 साल से ज्यादा उम्र के पुरुषों की कमर 33.5 इंच से ज्यादा और औरतों की 35.4 से ज्‍यादा नहीं होनी चाहिए. यह स्‍केल यहां के सरकारी कर्मचारियों का मोटापा जांचने के लिए रखी गई है. हालांकि तय मापदंड से ज्यादा होने पर कोई फाइन नहीं लिया जाता है बल्कि उन्हें फिट रहने के टिप्स दिए जाते हैं. इसलिए यह कभी नहीं भूलें कि जापान में मोटा होना गैरकानूनी है।

Related News

Leave a Comment