लड़के को पीट-पीट कर मार डालना और नारे लगाने के लिए कहना हिंदू धर्म का अपमान: करन सिंह

नई दिल्ली। हिंदू धर्म के अपमान के रूप में धार्मिक नारे लगाने वाले एक लड़के की मॉब लिंचिंग पर दिग्गज कांग्रेसी नेता करन सिंह ने गुरुवार को कहा कि ऐसे कृत्यों में शामिल लोगों को खुद को हिंदू कहने में शर्म आनी चाहिए।

इससे उनका इशारा झारखंड की उस घटना की ओर है जिसमें तबरेज अंसारी नामक मुस्लिम युवा व्यक्ति की चोर समझकर पिटाई की थी और जय श्री राम के नारे लगवाए थे।

कांग्रेस सांसद शशि थरूर द्वारा लिखी गई एक पुस्तक के लोकार्पण के दौरान एक सभा को संबोधित करते हुए, सिंह ने कहा, “एक लड़के को मौत के घाट उतारना और उससे ‘जय श्री राम’ और ‘जय हनुमान’ कहलवाना न केवल हिंदू धर्म का अपमान है, बल्कि यह महान देवताओं का अपमान है।”

उन्होंने कहा, “क्या यह हिंदू धर्म है? क्या जिन लोगों ने उन्हें पीट-पीटकर मार डाला है, उनके पास खुद को हिंदू कहने की हिम्मत है। उन्हें खुद को हिंदू कहने में शर्म आनी चाहिए। जो कोई भी इस तरह की बातें करता है, वह हिंदू धर्म का अपमान कर रहा है।”

Related News

Leave a Comment