महबूबा मुफ्ती ने मोदी सरकार की तुलना इजराइल से की...

एसपी मित्तल 
4 अगस्त को जम्मू कश्मीर की पूर्व सीएम और पीडीपी की नेता महबूबा मुफ्ती ने केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार की तुलना इजराइल से कर दी। कश्मीर के ताजा हालातों पर मीडिया से संवाद करते हुए महबूबा ने कहा कि जिस प्रकार इजराइल तौर तरीके अपनाता है। उसी प्रकार केन्द्र सरकार कश्मीर में कार्यवाही कर रही है। सीमा पर कलस्टर बम फोड़े जा रहे है तो आम नागरिकों को निशाना बनाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि इस आफत का कश्मीर की सभी जमातों को एक होकर मुकाबला करना चाहिए। महबूबा मुफ्ती ताजा हालातों को लेकर कुछ भी कहें लेकिन कश्मीर घाटी का जनजीवन सामान्य बना हुआ है। सरकार ने भले ही अमरनाथ यात्रियों और पर्यटकों को कश्मीर से बाहर निकाल दिया हो, लेकिन घाटी में रहने वाले किसी भी कश्मीरी पर कोई पाबंदी नहीं लगाई है। आतंकवाद ग्रस्त जिलों के नागरिक सामान्य तौर पर बाजारों में खरीददारी कर रहे हैं, स्कूल और कॉलेज भी खुले हुए हैं।

लोग सामान्य तौर पर रोजमर्रा की जिन्दगी व्यतीत कर रहे हैं। असल में केन्द्र सरकार ने हाल ही में जो कदम उठाए हैं, उनसे कश्मीरियों की सुरक्षा ही हो रही है। जिस तरह पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में भारतीय सेना ने कार्यवाही की है, उससे प्रतीत होता है कि यदि ऐसी कार्यवाही नहीं की जाती तो कश्मीरियों की जान को खतरा हो जाता। जहां तक कलस्टर बम का सवाल है तो ऐसा आरोप पाकिस्तान की ओर से लगाया गया है। यानि महबूबा अब खुलेआम पाकिस्तान के समर्थन में बयान दे रही हैं।

भारतीय सेना का कहना है कि उन्होंने सीमा पर पाकिस्तानी बोर्ड एक्शन टीम के सदस्यों को मारा है। लेकिन महबूबा कह रही हैं कि भारतीय सेना ने आम नागरिकों को मारा है। यानि ऐसे नाजुक अवसर पर भी महबूबा देशद्रोही वाली भाषा का इस्तेमाल कर रही हैं। महबूबा को चाहिए कि वे देशद्रोह की भाषा बोलना बंद करे और कश्मीर में हालात सामान्य होने दें।

नेतन्याहू ने दी बधाई
4 अगस्त को अंतर्राष्ट्रीय फ्रेंडशीप डे पर इजराइल के बैजमिन नेतन्याहू ने भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बधाई दी है। नेतन्याहू ने मोदी के उज्ज्वल भविष्य की कामना की। नेतन्याहू के मोदी को बधाई देने पर दोनों देशों का राजनीतिक माहौल गर्म हो गया है। उल्लेखनीय है कि नेतन्याहू ने हाल ही के चुनावों में अपने प्रचार के दौरान नरेन्द्र मोदी और स्वयं की फोटो का इस्तेमाल किया था। दोनों प्रधानमंत्रियों के बीच मित्रवत संबंध हैं। नरेन्द्र मोदी भी नेतन्याहू को अपना अच्छा दोस्त बता चुके हैं।


Source : upuklive

Related News

Leave a Comment