मानवता पर कलंक है मॉब लिंचिंग: अशोक गहलोत

जयपुर। मॉब लिंचिंग मानवता पर कलंक है। भीड़ द्वारा किसी की जान ले लेने से पीडि़त परिवार पर क्या बीतती है, इसका दर्द हम सब महसूस कर सकते हैं। राजस्थान में ऐसी घटनाओं का कोई स्थान नहीं है।

ये बात मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा गुरूवार को शासन सचिवालय में सचिवालय कर्मचारी संघ की ओर से आयोजित स्वतंत्रता दिवस समारोह में ध्वजारोहण के बाद कही। इस दौरान अशोक गहलोत ने कहा कि हमारा कोई नागरिक मॉब लिंचिंग का शिकार न हो और कानून-व्यवस्था बनी रहे।

इसके लिए हमारी सरकार एक सख्त कानून लेकर आई है। सीएम ने बताया कि मणिपुर के बाद राजस्थान देश का ऐसा दूसरा राज्य है, जिसने मॉब लिंचिंग पर कानून बनाया है और देश में प्रेम, मोहब्बत तथा भाईचारे का संदेश दिया है।

गहलोत ने कहा कि दो युवाओं में पे्रेम होना कोई गुनाह नहीं है। उन्हें अपनी रजामंदी से विवाह का अधिकार है। उनकी सुरक्षा के लिए हमारी सरकार ने ऑनर किलिंग पर भी मजबूत कानून बनाया है।73वां स्वतंत्रता दिवस गुरुवार को प्रदेशभर में धूमधाम से बनाया गया। इस मौके पर कई कार्यक्रम आयोहित किए गए।

Related News

Leave a Comment