मॉब लिंचिंग पर मोहन भागवत ने कहा- हम हर तरह की हिंसा की निंदा करते हैं

नई दिल्‍ली।  सरसंघचालक मोहन भागवत ने पहली बार एकसाथ 30 देशों के पत्रकारों के साथ राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ की विचारधारा और कार्यों के बारे में विचार साझा किए।

संघ प्रमुख भागवत से विदेशी पत्रकारों ने अर्थव्यवस्था, आरक्षण, अनुच्छेद-370, मॉब लिंचिंग से जुड़े सवाल भी पूछे. संघ प्रवक्‍ता ने बताया कि सरसंघचालक नियमित अंतराल पर समाज के अलग-अलग वर्गों से मुलाकात कर संघ की विचारधारा, कार्यों और देश-विदेश के मौजूदा मामलों पर बातचीत करते रहते हैं।

चर्चा का यह दौर करीब ढाई घंटे चला. इस दौरान भागवत ने विदेशी मीडिया के प्रतिनिधियों को संघ के दृष्टिकोण और कार्यों की जानकारी दी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मॉब लिंचिंग के सवाल पर आरएसएस की ओर से कहा कि हम हर तरह की हिंसा की निंदा करते हैं. स्‍वयंसेवक इस तरह की घटनाओं को रोकने की हरसंभव कोशिशें करें. अगर कोई स्वयंसेवक दोषी पाया जाता है तो कानून अपना काम करेगा. बैठक में संघ ने हर भारतीय को हिंदू बताया। 

Related News

Leave a Comment