मुलायम का छलका दर्द, आजम के लिए करेंगे आंदोलन

लखनऊ। आखिरकार सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव का पुराने दोस्त आजम खान की मुसीबतों पर दिल का दर्द छलक कर जुबां पर आ गया। उन्होंने रुआंसा होकर आजम के खिलाफ दर्ज मुकदमों को राजनीतिक प्रतिशोध का भयानक रूप करार दिया और अफसरों पर जोहर यूनिवर्सिटी को बर्बाद करने का इल्जाम लगाया। आज़म को नेक दिल इंसान बताकर सपा कार्यकर्ताओं से सड़क पर उतर कर संघर्ष करने की अपील की।
प्रदेश सपा मुख्यालय पर मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि रामपुर में जौहर यूनिवर्सिटी बनाने में आजम खा ने अपनी कमाई ही नहीं पूरी जिंदगी लगाई यहां तक कि एमएलए कोटे से मिला मकान तक बेचकर यूनिवर्सिटी को दे दिया। आज भी पतली सी गली में पुश्तैनी मकान में रहते हैं। उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी के लिए चंदा कर सैकड़ों बीघा जमीन खरीदने वाला शख्स बीघा-दो बीघा जमीन के लिए बेईमानी नहीं कर सकता है। दूसरे आजम खा ने जिंदगी भर गरीबों की लड़ाई लड़ी है गरीबों की जमीन नहीं छीनेगा।
उन्होंने कहा कि रंजिश की राजनीतिक आलम यह है कि सिविल मामलों को भी आपराधिक मुकदमों में दर्ज किया जा रहा है। अब तक करीब 80 मुकदमें आजम के खिलाफ दर्ज किए जा चुके हैं। अफसरों ने जुल्म की इंतहा कर उनकी बूढ़ी बहन को भी हिरासत में ले लिया था, जोकि अब अस्पताल में भर्ती है। उन्होंने सपा कार्यकर्ताओं से जौहर यूनिवर्सिटी बचाने के साथ आजम खां के हक में सड़क पर उतर कर आंदोलन करने की अपील की है। वादा किया कि वह खुद भी आंदोलन का हिस्सा बनेंगे।

Related News

Leave a Comment