बच्चों को ध्यान में रखकर फिल्में लिखता हूं- अनीस बज्मी

डायरेक्टर और राइटर अनीस बज़्मी का कहना है कि वह बच्चों को ध्यान में रखकर फिल्में लिखते हैं, ताकि बच्चें भी फिल्म इंज्वाय करें। 
 


फिल्म पागलपंती की टीम, जॉन अब्राहम, अनिल कपूर, अरशद वारसी, पुलकित सम्राट, इलियाना डिक्रूज, उर्वशी रौतेला, कृति खरबंदा, भूषण कुमार, कुमार मंगत और अनीस बज्मी कल मुंबई में फिल्म के सॉन्ग 'तुम पर हम अटके' लॉन्च पर मीडिया से बातचीत कर रहे थे। 


 
फिल्म डायरेक्टर अनीस बज्मी अपनी हिट कॉमेडी फिल्मों, जैसे नो एंट्री, वेलकम, सिंह इज किंज, रेडी और वेलकम बैक के लिए जाने जाते हैं, जब उनसे पूछा गया आपकी फिल्में बच्चों को बहुत पसंद आती है, और आप की फिल्म साफ-सुथरी रहती है, तो उन्होंने कहा, “मैं डबल मीनिंग वाले डायलॉग लिखता ही नहीं हूं। डबल मीनिंग वाले डायलॉग जो फिल्मों में आते है, मुझे उनसे भी कोई ऐतराज नहीं है।मुझे लगता है कि यदि आपके हाथ में कलम है, और थोड़ी कला है, दिमाग है और थोड़ी मेहनत कर सकते है, तो ये शार्टकट की जरूरत नहीं पड़ती।"
 


"जहां तक बात बच्चों की है, तो मैं बच्चों को ध्यान में रखकर फिल्में बनाता हूं, ताकि बच्चे फिल्म को इंज्वाय करें। परसनल लाइफ में भी मुझे बच्चों से बहुत प्यार है। ”
 


कॉमेडी बिना डबल मीनिंग के लिखना कितना कठिन है, इस बारे में बताते हुए अनीस ने कहा, "बहुत ज्यादा कठिन होता है, मैंने कई सारी फिल्में की लिखी हैं, जिनमें इमोशनल-ड्रामा, रोमांटिक और सस्पेंस-थ्रिलर फिल्में शामिल हैं, लेकिन अब भी जब मुझे कॉमेडी फिल्म लिखना होता है, तो मुझे बहुत घबराहट होती है। मुझे लगता है कि ये कैसे लिखी जाएगी, क्योंकि मैं ऐसा समझता हूं कि कॉमेडी लिखना सबसे मुश्किल काम है।”
 
फिल्म 22 नवंबर 2019 को रिलीज होगी। 



Source : News Helpline

Related News

Leave a Comment