मुझे मेरी लड़ाई खुद लड़नी हैं। - मिमोह चक्रवर्ती

सदाबहार एक्टर मिथुन चक्रवर्ती के बेटे मिमोह चक्रवर्ती ने कहा है कि उन्हें उनकी संघर्ष की लड़ाई खुद लड़नी है।


मिमोह चक्रवर्ती ने अपना फ़िल्मी डेब्यू २००८ मे फ़िल्म 'जिमी' से किया इन्हें फ़िल्म फेयर अवार्ड फॉर बेस्ट मेल डेब्यू के लिए नॉमिनेट भी किया गया  था। २०११ में भारत की पहली स्टीरियो - स्कोपिक ३ डी हॉरर फ़िल्म 'हॉन्टेड' ३ डी रिलीज़ हुई जो मिमोह की पहली हिट फ़िल्म बनी।


मिमोह चक्रवर्ती एक लम्बे इंतज़ार के बाद अब नज़र आने वाले है 'सॉरी आई ऍम लेट' फिल्म मे इस फिल्म की अनाउंसमेंट २ दिसम्बर सोमवार को हुई। इस इवेंट मे पत्रकारों से बातचीत के दौरान मिमोह ने अपने जर्नी और खुद के संघर्ष के बारे मे बताया । उन्होंने कहा, '' मेरे पेरेंट्स ने मुझे ज़िन्दगी दी है पर मुझे मेरी संघर्ष की लड़ाई खुद लड़नी है, मेरे फ़िल्मी करियर की जो भी मुश्किलें है उनका समाधान मुझे ही करना है''।


आगे मिमोह कहते है की, '' लोगों को पूरा हक़ है कि वो मुझे मेरे काम को लेकर कॉम्पलिमेंट करे या गाली दें, क्योकि लोग मुझे और मेरी फिल्म को देखने जाते है तो उनका ये हक़ है। ये सब मेरी जर्नी का हिस्सा है, इन सब मे मेरे पिता कि सिर्फ परछाई है और कुछ नहीं।  वे अगर सूरज है तो मे एक इंसान हूँ जो अपने खुद के बनाये रास्ते पर चल रहा हूँ''।

 


बेहरहाल आपको बता दें एक्टर मिमोह चक्रबोर्ती, म्यूजिक कंपोजर मोंटी शर्मा ,इस फिल्म के डायरेक्टर जयवीर पंघाल, एक्ट्रेस निकिता सोनी एंड अंकिता ठाकुर के साथ वर्सटाइल एक्टर मुजाहिद खान भी 'सॉरी आई ऍम लेट'  मूवी के अनाउंसमेंट पर मौजूद रहे।
 



Source : News Helpline

Related News

Leave a Comment