हम एक्टर है तो लोग हमारी बात सुनते हैं- गुरमीत चौधरी

टेलीविजन और बॉलीवुड एक्टर गुरमीत चौधरी का कहना है कि हम एक्टर है तो लोग हमारी बात सुनते हैं तो क्यों ना हम सिर्फ एक्टिंग का ना सोचकर, लोगों के बारे में भी सोचना शुरू करें। 
 


गुरमीत चौधरी शनिवार को मुंबई में वॉक फार द मैंग्रूव्स के 30 एडिशन के कार्टर रोड बीच के क्लीनअप इवेंट के दौरान मीडिया से बातचीत कर रहे थे। 


 
मीडिया से बातचीत करते हुए गुरमीत ने कहा, "आजकल थोड़ी ही बारिश होती है तो बाढ़ आ जाता है, जबकि पहले ऐसा नही होता था। हम बहुत लकी है कि हमारे मुंबई में मैंग्रूव्स है, जो फ्लड को रोकने में बहुत मदद करते है। हम इसकी सफाई करने के लिए यहां आएं है। हम सभी को इसके बारे में जानना बहुत जरूरी है, और अच्छी बात तो ये है कि हम एक एक्टर है तो लोग हमारी बात सुनते हैं, तो क्यों ना हम सिर्फ एक्टिंग का ना सोचकर, लोगों के बारे में भी सोचना शुरू करें।"
 
आगे गुरमीत ने कहा, "हमें इसकी शुरुआत अपने घरों से करनी होगी। हमें प्लास्टिक का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, क्योंकि ये ना केवल धरती के लिए बल्कि हमारे लिए भी बहुत ही हानिकारक है। हम अपने घर पर प्लास्टिक का इस्तेमाल करते है,

 

प्लास्टिक बॉटल में पानी पीते हैं, तो हमें वो नहीं करना चाहिए, प्लास्टिक बॉटल में पानी पीना बहुत ही खराब है, और सेहरा के लिए बिलकुल भी अच्छा नहीं होता है। 
पहले हम बचपन में कॉच की बॉटल का इस्तेमाल करते थे। हमें प्लास्टिक बैग का भी इस्तेमाल करना बंद कर देंना चाहिए। जैसे हम देखते हैं कि अगर आप मुंबई में कहीं भी मार्केट में जाएंगे तो वहां कपड़ो का बैग मिलना शुरू हो गया है। तो जितना हो सके आप इस बात को लोगो को समझाएं, ये बहुत जरूरी है।"
 


भामला फाउंडेशन के साथ अपने कोलाबोरेशन के बारे में बात करते हुए गुरमीत ने कहा, "भामला फाउंडेशन एक फैमिली है, इनके साथ हम सभी एसोसिएट होते हैं, और अच्छी बात ये ही कि हर साल लोग बढ़ते जा रहे है। मुंबई और मुंबई के बाहर भामला फाउंडेशन का बहुत बड़ा हाथ है। हम एक्टर्स बहुत लोगों को इंफ्लुएंस कर सकते हैं, तो क्यों ना अच्छी चीजों में इंफ्लुएंस करें। भामला फाउंडेशन बहुत ही अच्छा काम कर रहे है, और आने वाले सालों में हम सभी इनके साथ है।"



Source : News Helpline

Related News

Leave a Comment