नारी सशक्तिकरण (वीमेन एम्पावरमेंट) की कोई एक परिभाषा नहीं है - विद्या बालन


बॉलीवुड एक्ट्रेस विद्या बालन का कहना है कि नारी सशक्तिकरण की कोई एक परिभाषा नहीं है।

3 जनवरी 2020 मुंबई के (आई. आई. टी) कॉलेज मे विद्या बालन गेस्ट लेक्चरर के तौर पर आयी थी ।


यहाँ जब पत्रकार ने उनसे पूछा कि विद्या आपके लिए वीमेन एम्पावरमेंट की डेफिनेशन क्या है? इस पर विद्या ने कहा,  '' वीमेन एम्पावरमेंट के लिए कोई एक डेफिनेशन नहीं है। मुझे लगता है अलग अलग लोगों के अलग राय हो सकती है।


मेरे लिए वीमेन एम्पावरमेंट वो है जब कोई औरत पहली बार अपने घूँघट के बिना घर से बहार जाती है। जब कोई लड़की भाग कर अपनी मर्ज़ी से अपने पसंद के लड़के से शादी करती है बिना ये सोचे कि उसकी जात क्या है। जब किसी लड़की को पुरुष प्रधान जगह पर काम करने पर बराबर का हक़ और पैसा मिले। वीमेन एम्पावरमेंट का  मेरे लिए ये डेफिनेशन्स है''।

आगे विद्या ने पतियों के लिये कहा, '' जब आपकी पत्नी बहार से काम कर के वापस घर आती है, तब आप बस एक ग्लास पानी उसे दे देना आपकी दुनिया बदल जाएगी''।



बेहरहाल विद्या ने हमेशा नारी सशक्तिकरण के बारे मे अपनी राय दी है जो समाज को ये समझाता है कि हम सब बराबर का हक़ रखते है चाहे वो औरत हो या मर्द।



विद्या बालन कि आने वाली फिल्म की बात करे तो फिल्म 'शकुंतला देवी' मे वे ह्यूमन कंप्यूटर' के रोल में नजर आएंगी। यह फिल्म 8 मई 2020 को रिलीज़ हो रही है।   



Source : News Helpline

Related News

Leave a Comment