इस वक़्त देश मे अघोषित इमरजेंसी लागु है - मोहम्मद जिशान अयूब

बॉलीवुड एक्टर मोहम्मद जिशान अयूब  का कहना है कि इस वक़्त देश मे अघोषित इमरजेंसी लागु है ।

 
13 जनवरी एक्टर मोहम्मद जिशान अयूब  ने (CAA ,NRC) का विरोध एक बार फिर कविता पढ़ कर किया। देश मे यह लॉ पास कर दिया गया है जिसके बाद भी लोग इस लॉ का विरोध कर रहे है। उन्होंने कविता के जरिये कहा , ''

संसद के संयुक्त अधिवेशन ने ध्वनि मत से
संविधान का अंतिम संशोधन पारित कर दिया,
जिसके अनुसार अब से किसी भी सिक्के में
एक ही पहलू होगा
इस प्रकार सहस्रों वर्षों से चला आ रहा
अन्याय समाप्त हुआ।
 
आप को बता दे यह कविता इमरजेंसी के वक़्त लिखा गया था।
 
जिशान ने आगे कहा, '' आज भी देश मे इस वक़्त अघोषित इमरजेंसी लागु है। हमे कहा जाता है कि तुम आर्टिस्ट हो क्यों पोलिटिकल बाते करते हो। मुझे लगता है हमारे देश मे खासकर बॉलीवुड मे बहुत से लोगों ने  (CAA ,NRC)  पर कहा ' नहीं नहीं हम इस वक़्त इस बारे मे कुछ नहीं कहेंगे। पहले समझेंगे, पता करेंगे तब कमेंट करेंगे'। एक महीना हो गया आज भी उनका यही जवाब है''।
 
इस पर जीशान ने एक और कविता पढ़ी।
 
चैन की बाँसुरी बजाइये आप
शहर जलता है और गाइये आप,
चैन की बाँसुरी बजाइये आप
शहर जलता है और गाइये आप,
है तटस्त या की आप नीरो है
असली सूरत कभी दिखाइए आप।
 
इस कविता की नीरो शब्द को जीशान ने समझाया उन्होंने कहा, '' नीरो रोम का एक दुष्ट राजा था''।
 
बेहरहाल आम जनता के साथ-साथ बॉलीवुड के कई सेलिब्रिटीज ने भी इस  (CAA ,NRC) लॉ  के विरोध में आवाज उठा रहे हैं। जैसे दीपिका पादुकोण, स्वारा भास्कर, शबाना आजमी, तापसी पन्नू, अनुराग कश्यप, रितेश देशमुख, दिया मिर्जा संग अन्य ने इस लॉ की निंदा की है और अपनी नाराजगी भी जताई है। फिलहाल यह बिल पास हो चुकी है पर शांतिपूर्ण  विरोध प्रदर्शन जारी है जीशान के कविताओ से लेकर ट्विटर के लाइन्स तक।



Source : News Helpline

Related News

Leave a Comment