हरीश शेट्टी के अंबागोपाल फाउंडेशन नामक कैंसर पहल को बॉलीवुड और राजनीतिक सेलिब्रिटीज ने किया सपोर्ट

बॉलीवुड और पॉलिटिकल जगत की जानी मानी हस्तियां मुंबई में हरीश शेट्टी के अंबागोपाल फाउंडेशन नामक कैंसर पहल के लॉन्च को सपोर्ट करने पहुंची ।
 
हरीश शेट्टी द्वारा आयोजित किए गए इस इवेंट में सुपर्णा वानखेड़े, राजनेता रामदास अठावले, एक्टर शेखर सुमन, शरवानी मुखर्जी, मनप्रीत सोहल, उमेश शुक्ला, संदीप सोपारकर, देब मुखर्जी, मितुल प्रदीप, संजय खान, जयंत पाटिल और संभाजी ज़ेंडे भी शामिल हुए। 


 
रेस्टोरेंट जगत से जुड़े हरीश शेट्टी के अंबागोपाल फाउंडेशन ने कैंसर जैसी गंभीर बीमारी के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए एक पहल शुरू की है।
 
फाउंडेशन की कोर वर्क स्ट्रेंथ और ऑब्जेक्टिव के बारे में बात करते हुए, हरीश ने कहा, “फाउंडेशन का नाम मेरे माता-पिता के नाम पर रखा गया है। हम यहां कई अलग जैसे बुजुर्ग लोगों की देखभाल, भोजन और अलग-अलग तरह से सहायता प्रदान करने का काम करते हैं। इसके साथ ही हम नेचर के साथ भी बेहतर जीवन कायम रखने पर काम करते हैं। केमिकल मुक्त भोजन, पोर्टेबल वॉटर और स्वच्छ हवा, हमारे कुछ महत्वपूर्ण काम करने के क्षेत्र हैं। हम बुजुर्ग और युवा जेनरेशन के बीच एक कैंपेन भी चला रहे हैं, जिससे बुजुर्गों को एक अच्छा और सम्मानजनक जीवन जीने में आसानी होगी।”


 
फाउंडेशन दो सबसे बड़ी पहलें चलाता है - आहार वेद और होश (Hosh - Help our society Heal).
सुपर्णा वानखेड़े ने इस पहल के बारे में बात करते हुए कहा, ''अहर्वेद में, हम सही टेंपरेचर में खाना बनाते हैं, जिससे खाने में सभी विटामिन और न्यूट्रीशन्स मौजूद रहते है उसके बाद ही इसे सबको बांटा जाता है। हम अनाजों को सीधे किसानों से खरीदते हैं और जर्मन टेक्नोलॉजी के जरिए हम खाना बनाते हैं।”
 
इवेंट के बारे में बात करते हुए, शेखर सुमन ने कहा, “यह एक बहुत ही अच्छी पहल है। मुझे लगता है कि अपनी सोसाइटी, देश और दुनिया के लिए कुछ करना हमारी सामाजिक जिम्मेदारी होती है। लेकिन अपनी गलतियों और लालच के कारण हम अपनी दुनिया के विनाश के लिए खुद जिम्मेदार हैं। बीमारी होना एक आम बात है और हम ये भी जानते है कि एक दिन हम सब मरने वाले हैं, लेकिन अगर यह समय से पहले होता है, तो यकीनन इसके लिए हम जिम्मेदार हैं।

भगवान हमें संकेत देते है और हमें उन संकेतों को समझना होगा। मुझे लगता है कि इसके बारे में लोगों को जागरूक करना हमारी जिम्मेदारी है, मैं हरीश शेट्टी जी और सुपर्णा जी का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने ये कदम उठाकर इस पहल की शुरुआत की।
 
अंबागोपाल फाउंडेशन टाटा मेमोरियल अस्पताल के साथ मिलकर काम करता है, और जरूरतमंद लोगों को खाना और उनकी जरूरत के अनुसार अन्य चीजें भी प्रदान करता है। 

 



Source : News Helpline

Related News

Leave a Comment