हे भगवान! बकरी की मौत से 2.68 करोड़ रुपये का नुकसान, जानिए पूरा मामला

गुवाहाटी: एक बकरी की मौत इतनी महंगी हो गई कि उसे 2.68 करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ा। महानदी कोलफील्ड्स लिमिटेड (MCL) को यह नुकसान उठाना पड़ा है। विभाग ने एक बयान जारी कर कहा है कि ओडिशा के तालचेर कोयला क्षेत्र में एक बकरी की मौत हो गई। इसके बाद जमकर विरोध हुआ, जिसके कारण कंपनी को 2.68 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। बकरी की मौत ने तालचर कोयला क्षेत्रों में जगन्नाथ किनारे पर कोयला परिवहन को रोक दिया, जिससे प्रेषण कार्य में व्यवधान हुआ और नुकसान हुआ।

http://www.newscrab.com/article/entertainment/the-key-to-instant-entertainment-and-freedom-of-expression-10548


कोयले से लदे ट्रक से टकराने के बाद एक बकरी की मौत हो गई। इसके बाद, स्थानीय लोग नाराज हो गए और बकरी की मौत के कारण हुए नुकसान की भरपाई के लिए 60 हजार रुपये की मांग करने लगे। प्रतिबंधित खनन क्षेत्र में एक बकरी की मौत के बाद, चटिया हर्टिंग्स गांव के कुछ लोगों ने हंगामा खड़ा कर दिया। तालचेर कोलफील्ड्स के जगन्नाथ सिडिंग्स 1 और 2 में चल रहे काम में स्थानीय लोगों ने रोष पैदा किया।

http://www.newscrab.com/article/entertainment/the-key-to-instant-entertainment-and-freedom-of-expression-10548

इसके बाद उच्च अधिकारियों और पुलिस के हस्तक्षेप के बाद काम फिर से शुरू किया गया। एमसीएल ने तब एक बयान जारी कर कहा कि 3.30 घंटे से अधिक समय तक काम बंद रहने के कारण कंपनी को 1.4 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। वहीं, डिस्पैच पर रेलवे को 1.28 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। इतना ही नहीं, बल्कि इस काम को रोकने के कारण सरकार को 46 लाख रुपये का नुकसान भी हुआ है।

Related News

Leave a Comment