तबरेज अंसारी लींचिंग मामले को लेकर ओवैसी का बड़ा बयान!

नई दिल्ली। झारखंड पुलिस ने लगभग दो महीने पहले सरायकेला में हुए तबरेज अंसारी के मॉब लींचिग मामले में सभी 11 आरोपियों पर से हत्या का चार्ज हटा दिया गया है. पुलिस ने तबरेज अंसारी की पत्नी ने शिकायत दर्ज कराया था.

वहीं, इस मामले पर असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि तबरेज अंसारी को 7 घंटे ना सिर्फ पीटा गया है बल्कि जबरन बुलवाया भी गया. अगर उसको नहीं पीटा जाता तो उसकी मौत होती क्या?

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उन्होंने कहा है कि झारखंड में बीजेपी की सरकार आरोपियों को बचाने की कोशिश कर रही है. साथ ही उन्होंने कहा कि इन लोगों को सियासी आकाओं को मदद मिलती है.

असदुद्दीन ओवैसी ने साथ ही कहा कि धारा 302 आखिर क्यों नहीं लगाया जा सकता है. प्रॉसिक्यूशन को हुकूमत से दूर रखना बहुत ज़रुरी है. बीजेपी इस बात को समझ रही है. राइट टू लाइफ फंडामेंटल राइट है.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में ओवैसी ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी की सरकारों में मुस्लमानों का कर्बला बना हुआ है. आप तो जालिम बन रहे हैं और हर जगह कर्बला बना रहे हैं.

पुलिस द्वारा सौंपी गई रिपोर्ट में पोस्टमार्टम रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा है कि तबरेज की मौत हार्ट अटैक से हुई थी इसलिए आरोपियों पर हत्या का केस नहीं चलाया गया है और मर्डर केस को ड्रॉप कर दिया गया है.

Related News

Leave a Comment