मैं कभी या कहीं इंद्राणी मुखर्जी से नहीं मिला: चिदंबरम

सीबीआई ने आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की जमानत अर्जी का विरोध करते हुए कहा कि गंभीर अपराध के आरोपी होने व दोषिसिद्धी की संभावना का आभास होने की वजह से उनके देश छोड़कर जाने का खतरा है।

सीबीआई ने दलील दी कि वरिष्ठ कांग्रेसी नेता के पास किसी दूसरे देश में अनिश्चतकाल तक समय बिताने के लिहाज से संसाधन हैं और मुकदमा पूरा होने तक उन्हें जमानत पर नहीं छोड़ा जाना चाहिए। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता चिदंबरम को आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में 21 अगस्त को गिरफ्तार किया गया था।

उन्होंने कहा, मैं (चिदंबरम) कभी कहीं इंद्राणी मुखर्जी से नहीं मिला। लॉग बुक में आगंतुकों के प्रवेश की जानकारी होगी। मैं लॉग बुक को मानूंगा।

मेहता ने कहा कि चिदंबरम ने इंद्राणी से मुलाकात की थी और जांच के दौरान उन्हें पता चला कि वित्त मंत्री के दफ्तर का आगंतुक रजिस्टर उपलब्ध नहीं है तथा उसे हटा दिया गया है। लेकिन उनके पास उस कार की जानकारी है जिससे इंद्राणी और उसके पति पीटर होटल से चिदंबरम के दफ्तर गये थे। उन्होंने कहा कि जमानत नहीं दी जानी चाहिए क्योंकि मामला आरोपपत्र से पूर्व के स्तर पर है और जांच जारी है।

Related News

Leave a Comment