पाक पीएम इमरान ने कश्मीर मामले पर खेला बड़ा दांव, अब मुजफ्फराबाद में...

पीएम नरेंद्र मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को खत्म करके एक ऐतिहासिक फैसला लिया है। भारत के उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती, फारूक अब्दुल्ला और कांग्रेस नेता राहुल गांधी जैसे दिग्गज, जिनमें पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भी शामिल हैं।


पाकिस्तान को कश्मीर मामले पर संयुक्त राष्ट्र का समर्थन नहीं मिला

पाकिस्तान ने कश्मीर मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र से समर्थन मांगा। लेकिन कुछ हासिल नहीं हुआ। अमेरिका, ब्रिटेन, रूस जैसे बड़े देशों ने भी पाकिस्तान का समर्थन नहीं किया। जिसके कारण पाकिस्तान ने लगातार कई कदम उठाए हैं। उसने भारत के साथ राजनयिक और व्यापारिक संबंध भी तोड़ दिए। हाल ही में पाकिस्तान के सेना प्रमुख क़मर जावेद बाजवा ने कहा कि पाकिस्तान कभी भी कश्मीर को अकेला नहीं छोड़ेगा, पाकिस्तान कश्मीर के बिना अधूरा है। जिसके बाद अब इमरान खान ने भी बड़ा दांव खेला है।


इमरान खान का बड़ा दांव

अब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बड़ा दांव खेला है, जिसमें घोषणा की गई है कि वह 13 सितंबर को पीओके के मुजफ्फराबाद में एक बड़ी रैली करेंगे। उन्होंने कहा, "इसका उद्देश्य कश्मीर में भारतीय सुरक्षा बलों द्वारा लगातार घेराबंदी के बारे में एक संदेश भेजना है। कश्मीरियों को यह दिखाने के लिए भी कि पाकिस्तान उनके साथ पूरी तरह से खड़ा है।"

Leave a Comment