भीम आर्मी चीफ की गिरफ्तारी पर भड़कीं प्रियंका

नई दिल्ली। दिल्ली में संत रविदास मंदिर के पुनर्निर्माण की मांग को लेकर दलित संगठनों के प्रदर्शन की पृष्ठभूमि में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की. उन्होंने कहा कि दलितों की भावनाओं का आदर किया जाना चाहिए. भीम आर्मी चीफ चन्द्रशेखर की गिरफ़्तारी पर भड़कीं प्रियंका ने कहा कि दलितों का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.
इसके साथ ही प्रियंका गांधी वाड्रा ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि दलितों का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. उन्होंने ट्वीट कर कहा, भाजपा सरकार पहले करोड़ों दलित बहनों-भाइयों की सांस्कृतिक विरासत के प्रतीक रविदास मंदिर स्थल से खिलवाड़ करती है और जब इसके विरोध में देश की राजधानी में हजारों दलित भाई-बहन अपनी आवाज़ उठाते हैं तो उन पर लाठी बरसाती है. उन पर आंसू गैस के गोले छोड़े जाते हैं और उन्हें गिरफ़्तार किया जाता है.
प्रियंका ने कहा, दलितों की आवाज़ का यह अपमान बर्दाश्त से बाहर है. यह एक जज़्बाती मामला है और उनकी आवाज का आदर होना चाहिए.
बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर दिल्ली विकास प्रधिकरण ने तुगलकाबाद में संत रविदास का मंदिर ढहा दिया था. आरोप था कि मंदिर सरकारी ज़मीन पर बना हुआ है. मंदिर ढहाने के बाद से ही बवाल शुरू हो गया. दिल्ली से लेकर हरियाणा, पंजाब, एमपी और राजस्थान समेत अन्य राजयों में मंदिर ढहाए जाने के विरोध में प्रदर्शन शुरू हो गए.
बुधवार को देशभर से संत रविदास के भक्तों का जत्था दिल्ली में आ धमका. प्रदर्शन के बाद लौटते हुए भक्तों ने जगह-जगह तोडफ़ोड़ भी की और वाहनों को आग लगा दी. इसके अलावा प्रदर्शनकारी पुलिस के साथ भी भिड़ते नजऱ आए. वहीं, भीम आर्मी के प्रमुख चन्द्रशेखर को हिरासत में भी ले लिया गया.

Related News

Leave a Comment