वसीम रिज़वी की फिल्म रिलीज की तो जला डालेंगे सिनेमाघर

मुरादाबाद (इफ्तखार अर्शी)। शिया बोर्ड चेयरमैन वसीम रिजवी की हजरत आयशा के किरदार को लेकर बनी फिल्म के खिलाफ जुमे की नमाज के बाद मुसलमानों ने सड़क पर उतर कर विरोध प्रदर्शन किया। भावनाओं को भड़काने वाली फिल्म के रिलीज होने पर सिनेमाघरों में आग लगाने की चेतावनी दी।

शहर की जामा मस्जिद से जुमे की नमाज के बाद जुलूस की शक्ल में मुस्लिम समाज के लोग शिया वक्फ बोर्ड चेयरमैन वसीम रिजवी के खिलाफ नारेबाजी करते जामा मस्जिद चौराहा पर पहुंचे। जहां पर पहले से मौजूद अफसरों को राष्ट्रपति को संबोधित मेमोरेंडम सौंपा। इसमें वसीम रिजवी की फिल्म को मुसलमानों की भावनाओं को भड़काने वाला करार दिया।

कहा कि वसीम रिजवी ने पैग़ंबरे इस्लाम हजरत मोहम्मद साहब की बीवी हजरत आयशा को मन्नत कहानी के रूप में दर्शाया है जिसका ट्रेलर यूट्यूब पर लोड कर अपनी फेसबुक आईडी से शेयर किया है। इस फिल्म को मुसलमान कतई बर्दाश्त नहीं करेगा।

फिल्म को रिलीज किया तो सिनेमाघरों में आग लगाने की चेतावनी दी है। उन्होंने फिल्म पर तत्काल पाबंदी लगाने वसीम रिजवी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर बोर्ड चेयरमैन के पद से बर्खास्त करने की भी मांग की। प्रदर्शन में सलीम अहमद बाबरी, शुएब पाशा, सलीम वारसी, मुस्तफा हुसैन आदि मौजूद थे।

Related News

Leave a Comment