केन्द्रीय मोटर वाहन अधिनियम: इन 17 अपराधों में कर रहेगी कम्पाउंडिंग फीस, राजस्थान सरकार ने लिया निर्णय

जयपुर। यातायात नियमों के उल्लंघन के विषय में केन्द्रीय मोटर वाहन अधिनियम में संशोधन के अनुरूप प्रस्तावित बढ़ी हुई प्रशमन राशि (कम्पाउंडिंग फीस) राजस्थान में शुरू में कम रखी जाएगी। सीएम अशोक गहलोत ने मंगलवार को मुख्यमंत्री कार्यालय में मोटर वाहन अधिनियम में संशोधनों के विषय में एक उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता करते हुए ये बात कही।

इस विभाग में राजस्थान सरकार जल्द करवाने जा रही है 737 पदों पर भर्ती

इस दौरान अशोक गहलोत ने कहा कि मोटर वाहन अधिनियम में हुए संशोधन के अनुसार यातायात नियम में उल्लंघन से जुड़े जिन 33 अपराधों में बढ़ी हुई जुर्माना राशि प्रस्तावित की गई है, उनमें से शुरू में 17 अपराधों में व्यावहारिक दृष्टिकोण अपनाते हुए कम कम्पाउंडिंग फीस रखी जाएगी, ताकि आमजन स्वप्रेरणा से सडक़ सुरक्षा नियमों की पालना करें।

खुशखबरी: राजस्थान सरकार छात्रों को भी देने जा रही है ये नि:शुल्क सुविधाएं

हालांकि उन्होंने बताया कि गंभीर प्रकृति के 16 मामलों में फीस अधिनियम में वर्णित जुर्माना राशि के बराबर रखी जाएगी।अशोक गहलोत ने बताया कि यदि सडक़ दुर्घटनाओं में कमी नहीं आई और प्रावधानित संशोधन के उदेश्य पूरे नहीं हुए, तो कम्पाउंडिंग फीस को अधिनियम के अनुरूप अधिकतम सीमा तक बढ़ाया जा सकता है।



Source : rajasthan-khabre

Related News

Leave a Comment