बहरोड मॉब लिंचिंग मामले में अपील करेगी राजस्थान सरकार, कोर्ट ने सुनाया ये फैसला

जयपुर। बहरोड मॉब लिंचिंग में वर्ष 2017 में भीड़ के द्वारा मारे गए पहलू खान मामले में राजस्थान सरकार ने अब अपील करने का फैसला किया है। इस मामले में अलवर कोर्ट द्वारा छह आरोपियों को बरी किए जाने के बाद राजस्थान सरकार ने इस प्रकार का फैसला किया है।मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस मामले में न्यायालय के निर्णय को लेकर शुक्रवार शाम मुख्यमंत्री कार्यालय मेें उच्च अधिकारियों के साथ विस्तार से समीक्षा की।

मानवता पर कलंक है मॉब लिंचिंग: अशोक गहलोत

इस दौरान गहलोत ने इस प्रकरण के घटनाक्रम एवं अनुसंधान में रही त्रुटियों पर विस्तार से चर्चा की। बैठक में निर्णय किया गया कि अधीनस्थ न्यायालय के निर्णय पर अपील की जाए, जिसमें एक वरिष्ठ अधिवक्ता की सेवाएं ली जाएंगी। सम्पूर्ण प्रकरण की जांच के लिए एडीजी क्राइम की निगरानी में स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (एसआईटी) का गठन किया जाएगा।

यह एसआईटी 15 दिन में अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। इस एसआईटी का नेतृत्व उप महानिरीक्षक एसओजी नितिनदीप बल्लगन करेंगे तथा इनके साथ एसपी सीआईडी सीबी समीर कुमार सिंह तथा एएसपी विजिलेंस समीर दुबे टीम में शामिल होंगे।

राजस्थान सरकार ने पहली बार रक्षा बंधन पर महिलाओं को दिया ये बड़ा तोहफा

गौरतलब है कि 1 अप्रैल, 2017 को बहरोड थाना क्षेत्र में पहलू खान और उसका बेटा गायों को लेकर जा रहे थे, इसी दौरान भीड़ ने दोनों के साथ कथित तौर पर मारपीट की गई थी। इसके बाद घायल हुए पहलू खान को अस्पतला में भर्ती करवाया गया। इलाज के दौरान चार अप्रैल को उसकी मौत हो गई थी।

Related News

Leave a Comment