चिदम्बरम का बयान लोगों को भड़काने के लिए: प्रसाद

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं ने वरिष्ठ कांग्रेसी नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदम्बरम के उस बयान की तीखी आलोचना की है जिसमें उन्होंने (चिदम्बरम) कहा गया कि जम्मू कश्मीर के मुस्लिम बहुल होने के कारण संविधान के अनुच्छेद 370 को हटाया गया है। भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय विधि मंत्री रविशंकर प्रसाद ने संवाददाताओं से कहा, यह एक दुर्भाग्यपूर्ण बयान है। यह बयान केवल लोगों को भड़का सकता है।
उन्होंने कहा कि बीते वर्षों में कश्मीर में बहुत से लोगों की जानें गई हैं और इनमें मुस्लिम भी शामिल हैं। अनुच्छेद 370 को हटाये जाने का निर्णय देशहित में लिया गया है। अनुच्छेद 370 के नाम पर इन सालों में मुस्लिमों को भेदभाव और अन्याय का सामना करना पड़ा। गुज्जर, बकेरवाला और अन्य जनजातियां आरक्षण के अधिकारों से वंचित रहे । उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर की मुस्लिम महिलाओं को भी भेदभाव से सामना करना पड़ा।
डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी ने चिदम्बरम की खिंचाई करते हुए कहा कि देश को आजादी दिलाने का दावा करने वाली कांग्रेस आज एक दुश्मन देश की राह पर चल रही है और वह देश पाकिस्तान है। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने सोनिया गांधी को अंतरिम कांग्रेस अध्यक्ष बनाये जाने पर भी कांग्रेस की खिंचायी की। उन्होंने कहा,  इतिहास में यह पहला मौका है , जब मैंने सुना कि एक मां अपने बेटे की विरासत मिल रही है। उन्होंने व्यंग्य किया कि चुनावों में पराजय के बाद राहुल गांधी के पार्टी अध्यक्ष का पद छोडऩे के फैसले पर अडिग रहने के कारण कांग्रेस कार्यसमिति ने श्रीमती सोनिया गांधी को अंतरिम अध्यक्ष बनाने का निर्णय लिया। 

Related News

Leave a Comment