एक और ताजमहल, विधवा ने पति की याद में कराया था इसका निर्माण

आगरा में दीवानी चौराहे के पास स्थित रोमन कैथलिक कब्रिस्तान के अंदर मौजूद लाल ताजमहल की देखरेख भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) विभाग करता है। यहां आने का कोई टिकट नहीं लगता फिर भी यहां पर्यटक कम ही आते हैं।

संगमरमरी ताजमहल का निर्माण मुगल बादशाह शाहजहां ने करवाया था। लेकिन इस लाल ताजमहल का निर्माण सिपहसालार जॉन विलियम हीसिंग की विधवा ऐलिस द्वारा कराया गया।

जॉन विलियम हीङ्क्षसग अपनी पत्नी के साथ जब आगरा आए तो ताज के आकर्षण से प्रभावित होकर एक शाम वहां पहुंचे। ताज के सौंदर्य और उसके साथ जुड़ी मोहब्बत की दास्तान ने इस जोड़े को प्रभावित किया।

वहीं दोनों ने एक दूसरे से वादा लिया कि दोनों में से जिसकी मृत्यु पहले हो जाएगी, वह उसकी याद में ऐसा ही ताज महल बनवाएगा।


जॉन हीसिंग मराठा सरदार महादजी दौलत राव सिंधिया की फौज में 1799 में आगरा में अधिकारी थे। उनकी मृत्यु के बाद उनकी पत्नी ने अपने पुत्रों के साथ मिलकर इस ताजमहल का निर्माण करवाया। 

Leave a Comment