कुरान बांटने के आदेश पर छात्रा ने उठाया सवाल, बोली- क्या कभी मिला हनुमान चालीसा पढ़ने का आदेश?

सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने की वजह से कुरान बांटने का आदेश पाने वाली छात्रा ने कोर्ट के इस फैसले पर सवाल उठाया है। रिचा भारती नामक इस छात्रा ने विरोध करते हुए कहा है के दूसरे धर्म के लोगों को ऐसी पोस्ट करने पर हनुमान चालीसा पढ़ने का आदेश क्यों नहीं दिया जाता है।

झारखंड की एक अदालत द्वारा कुरान की 5 प्रतियां बांटने का ऑर्डर पाने वाली छात्रा रिचा ने कहा, 'दूसरे धर्म, समुदाय के लोग भी तो इस तरह की पोस्ट करते रहते हैं। क्या उन्हें कभी भी हनुमान चालीसा पढ़ने या फिर मंदिर में जाने का आदेश दिया गया है?' इससे पहले रिचा ने एक निजी चैनल से कहा, 'नहीं, मैं कुरान नहीं बांटना चाहती हूं।' उन्होंने कहा, 'आज कुरान बंटवा रहे हैं, कल बोलेंगे तुम इस्लाम स्वीकार कर लो।' 

Related News

Leave a Comment