मंत्री शांति धारीवाल ने कहा- गाय को पूजना व्यर्थ

एसपी मित्तल 
राजस्थान की कांग्रेस सरकार के संसदीय और नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल ने 22 जुलाई को जयपुर में एक समारोह में कहा कि गाय एक लाभ दायक पशु है, लेकिन इसे पूजने का कोई सेंस नहीं है। सवाल उठता है कि आखिर कांग्रेस के मंत्री नेता हिन्दुओं को चिढ़ाने वाले बयान क्यों देते हैं?

गाय की पूजा न करने के पीछे धारीवाल के अपने तर्क हो सकते हैं, लेकिन जब सनातन संस्कृति में हर हिन्दू गाय को माता मानकर पूजता है तब धारीवाल के ऐसे बयान का क्या तुक है? गाय की महिमा को समझने के लिए धारीवाल को पहले सनातन संस्कृति को समझना होगा।

हालांकि धारीवाल स्वयं भी हिन्दू है, लेकिन ऐसा प्रतीत होता है कि कांग्रेस में रह धारीवाल को हिन्दुओं को चिढ़ाने में मजा आता है। धारीवाल ने गौमाता के खिलाफ यह बयान तब दिया है, जब हाल ही के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो गया है।

प्रदेश की सभी 25 सीटों पर कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा है। कांग्रेस के नेताओं ने चुनाव के दौरान भी जिस तरह सनातन संस्कृति का मजाक उड़ाया और राष्ट्र विरोधी तत्वों की हिमायत की उसी का नतीजा है कि राजस्थान सहित देशभर में कांग्रेस को बुरी हार का सामना करना पड़ा।

भाजपा को जहां 303 सीटे अकेले दम पर मिली वहीं कांग्रेस को मात्र 55 सीटे मिली हैं। इससे कांग्रेस के नेताओं और मंत्रियों को अपनी स्थिति का अंदाजा लगाना लेना चाहिए।  यदि अभी भी कांग्रेस के नेता हमारी संस्कृति का मजाक उड़ाते रहे तो आने वाले दिनों में कांग्रेस को राजनीतिक दृष्टि से और नुकसान होगा।

Related News

Leave a Comment