नाग मिसाइलों का सफल परीक्षण

भारतीय सेना ने तीसरी पीढ़ी की टैंक रोधी निर्देशित मिसाइल नाग का पोखरण फायरिंग रेंज में सफल परीक्षण किया और इस तरह इसके सेना में शामिल होने का रास्ता साफ हो गया है। सात से आठ जुलाई के बीच परीक्षण किये गए। 'नागÓ मिसाइल सभी मौसम में दुश्मनों के पूरी तरह सुरक्षित टैंकों को न्यूनतम 500 मीटर और अधिकतर चार किलोमीटर की दूरी से भेदने की क्षमता के साथ विकसित की गई है। ग्रीष्मकालीन परीक्षण पूरा होने के साथ अब मिसाइल के उत्पादन और सेना में इसके शामिल होने का रास्ता साफ हो जाएगा।

Related News

Leave a Comment