STF ने दो संदिग्ध आतंकियों को किया गिरफ्तार, पुलवामा हमले से कनेक्शन का शक

पटना। आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) और पटना पुलिस की संयुक्त टीम ने पटना रेलवे स्टेशन के निकट दो बंगलादेशी आतंकवादियों को गिरफ्तार कर उनके पास से पुलवामा आतंकी हमले के बाद जम्मू कश्मीर में अद्र्धसैनिक बलों की प्रतिनियुक्ति से संबंधित दस्तावेज बरामद किया है।
वरीय पुलिस अधीक्षक गरिमा मलिक ने आज यहां बताया कि एटीएस को सूचना मिली थी कि दो बंगलादेशी युवक पटना रेलवे स्टेशन के निकट स्थित मदनी मुसाफिरखाना के आस-पास संदिग्ध अवस्था में घूम रहे हैं। इसी सूचना के आधार पर एटीएस के वरीय अधिकारियों ने पटना पुलिस के साथ एक टीम का गठन किया। इसी टीम ने दोनों युवकों को कल मदनी मुसाफिरखाना के दक्षिण मोटरसाइकिल स्टैंड के पास से संदिग्ध अवस्था में गिरफ्तार कर लिया । श्रीमती मलिक ने बताया कि गिरफ्तार दोनों बंगलादेशी युवक प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन जमीयत-उल- मुजाहिदीन बंगलादेश और इस्लामिक स्टेट बंगलादेश के सक्रिय सदस्य हैं । गिरफ्तार आतंकवादियों की पहचान खैरुल मंडल और अबू सुल्तान के रूप में की गई है।
वरीय पुलिस अधीक्षक ने बताया कि दोनों आतंकवादियों ने बिना किसी पासपोर्ट, वीजा अथवा वैध दस्तावेज के अवैध रूप से बंगलादेश की सीमा पार कर भारत में प्रवेश किया है। दोनों आतंकवादी अपनी पहचान छुपाने के लिए फर्जी भारतीय मतदाता पहचान पत्र बनाकर उसका इस्तेमाल करते थे। उन्होंने बताया कि इसी संगठन से जुड़े नूरुल हुदा मासूम , रिंकू मंडल और सैबुर को बंगलादेश की पुलिस ने आतंकी घटनाओं के मामले में गिरफ्तार किया था। श्रीमती मलिक ने बताया कि पूछताछ में यह स्पष्ट हुआ कि दोनों आतंकवादी भारत में रहकर जमीयत-उल- मुजाहिदीन बंगलादेश संगठन के निर्देश पर कोलकाता, केरल, दिल्ली और बिहार के पटना तथा गया शहर में घूम-घूम कर अपने संगठन से अन्य मुस्लिम युवकों को जोडऩे और बौद्ध धार्मिक स्थलों पर आतंकी घटनाओं को अंजाम देने के लिए रेकी करने का कार्य कर रहे थे। इसी क्रम में वे 11 दिन गया में जाकर रुके भी थे। दोनों आतंकवादी सीरिया जाकर आईएसआईएस के साथ मिलकर जिहाद में शामिल होना चाहते थे।
वरीय पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गिरफ्तार दोनों आतंकवादियों के पास से पुलवामा घटना के बाद जम्मू कश्मीर में अर्द्धसैनिक बलों की प्रतिनियुक्ति से संबंधित आदेशों की छायाप्रति बरामद की गई है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा आतंकवादियों के पास से आईएसआईएस एवं अन्य आतंकवादी संगठनों के पोस्टर, पर्ची की छायाप्रति, तीन मोबाइल फोन, एक मेमोरी कार्ड, दो फर्जी भारतीय मतदाता पहचान पत्र, एक फर्जी पैन कार्ड तथा रेलवे और बस की टिकट बरामद की गई है।

Related News

Leave a Comment