सोशल मीडिया के दुरुपयोग पर रोक के लिए ठोस कदम उठायें वेबसाइट: गृह मंत्रालय

नई दिल्ली। गृह मंत्रालय ने सोशल मीडिया कंपनियों से असामाजिक तत्वों की ओर से इन वेबसाइटों के दुरुपयोग पर रोक लगाने के लिए ठोस कदम उठाने और देश में शिकायत निवारण अधिकारियों की नियुक्ति करने को कहा है।

सुशांत सिंह पर अपनी को-स्टार के साथ लगे दुर्व्यवहार के आरोपों को लेकर संजना सांघी ने तोड़ी चुप्पी, कही ये बड़ी बात

केन्द्रीय गृह सचिव राजीव गौबा ने फेसबुक, गुगल, ट्विटर, व्हाट्सएप, यू-ट्यूब और इंस्टाग्राम जैसी सोशल मीडिया कंपनियों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक में यह बात कही। बैठक में सुरक्षा एजेन्सियों, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी, संचार विभाग और गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी हिस्सा लिया।

बैठक में इन वेबसाइटों के दुरुपयोग को रोकने के लिए अब तक उठाए गए कदमों की समीक्षा की गई। गृह सचिव ने कंपनियों के प्रतिनिधियों से कहा कि वह सोशल मीडिया के जरिए अफवाह, अशांति फैलाने और साइबर अपराध विशेष रूप से महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराधों और राष्ट्रहित के खिलाफ गतिविधियों पर रोक लगाने के लिए ठोस कदम तंत्र बनाने को कहा।

रोहन मेहरा ने जताया अफसोस, मशहूर फिल्मी हस्ती का बेटा होने के बाद भी उन्हें कोई नहीं जानता

प्रतिनिधियों ने इन वेबसाइटों को ब्लाक करने और आपत्तिजनक सामग्री को हटाने के लिए उठाए गए कदमों की जानकारी दी। गौबा ने कहा कि सोशल मीडिया कंपनी उनकी वेबसाइट के दुरुपयोग रोकने के साथ-साथ संबंधित शिकायतों के निवारण के लिए देश में अलग से अधिकारी भी नियुक्त करे।

सभी प्रतिनिधियों ने सरकार को इस बारे में पूरा सहयोग देने का आश्वासन दिया। गृह सचिव ने सोशल मीडिया कंपनियों के साथ गत जून में भी बैठक की थी।

Related Articles

Leave a Comment