इन देशों में दुनिया में अजीबोगरीब कानून हैं, कहीं पर जॉगिंग पर प्रतिबंध है तो कहीं पर जींस पर प्रतिबंध है

समाज को सही तरीके से चलाने के लिए कानून होना बहुत जरूरी है। अगर सही कानून और व्यवस्था नहीं है, तो स्वाभाविक है कि समस्याएं बढ़ेंगी, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि अगर समाज की समस्याओं को दूर करने वाले कानून समाज की समस्याओं का कारण बन जाएं तो क्या किया जाएगा? दुनिया में कई ऐसे देश हैं जिनके अजीबोगरीब कानून आपको हैरान कर देंगे। आइए जानते हैं दुनिया के कुछ अजीबोगरीब कानूनों के बारे में ...

डेमो - फोटो

च्युइंग गम खाने पर प्रतिबंध

आपने अक्सर शराब, सिगरेट, तम्बाकू, पान मसाला आदि चीजों पर प्रतिबंध के बारे में सुना होगा, लेकिन क्या आपने कभी च्यूइंग गम पर प्रतिबंध के बारे में सुना है? आपको बता दें कि 2004 से सिंगापुर में च्युइंगम खाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। इस कानून के पीछे सरकार का तर्क है कि सफाई रखने में समस्या है। इतना ही नहीं बल्कि इस देश के अंदर आप बाहर से भी च्युइंग गम नहीं ला सकते हैं। यदि आपके पास चबाने वाली गम है, तो इसे हवाई अड्डे पर आपसे दूर ले जाया जाएगा।


डेमो - फोटो

बच्चों का नाम मुफ्त नहीं है

बच्चे आपके हैं, लेकिन आप उन्हें अपनी मर्जी से नाम नहीं दे सकते। इसके लिए सरकार तय करेगी कि आप अपने बच्चे का नाम क्या रखेंगे? यह अजीब कानून डेनमार्क में है। डेनमार्क में, आप अपनी इच्छानुसार अपने बच्चे का नाम नहीं रख सकते। इसके लिए सरकार द्वारा 7,000 नामों की सूची दी जाएगी, जिसमें से आपको एक नाम चुनना होगा। आपको अपने बच्चे का पहला नाम इस तरह से रखना है कि वह बच्चे के नाम से जाना जाए चाहे वह लड़का हो या लड़की और अगर आप अपनी पसंद का नाम रखना चाहते हैं जो सूची में नहीं है, तो आप चर्च और सरकार से अनुमति लेनी होगी। ।


डेमो - फोटो

जॉगिंग करना बंद करें

बुरुंडी पूर्वी अफ्रीका का एक देश है जहाँ आप जॉगिंग नहीं कर सकते हैं। स्वास्थ्य के लिए टहलना फायदेमंद हो सकता है, लेकिन आप इसे इस देश में रहकर नहीं कर सकते। दरअसल, 2014 में, भारत के राष्ट्रपति ने जॉगिंग पर प्रतिबंध लगा दिया था। इस अजीबोगरीब कानून के पीछे, उन्होंने तर्क दिया कि लोग असामाजिक गतिविधियों के लिए जॉगिंग की मदद लेते हैं।


डेमो - फोटो

नीली जींस पर प्रतिबंध

आपने उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग की तानाशाही की कहानियां सुनी होंगी। किम जोंग उन अपने देश में अजीब कानून बनाने के लिए भी प्रसिद्ध है। आपको बता दें कि उत्तर कोरिया में नीली जींस पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। यह पश्चिमी संस्कृति के प्रभाव से बचाने के लिए उत्तर कोरिया में प्रतिबंधित है।

Related News

Leave a Comment