बसपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए विधायकों को लग सकता है ये झटका, पायलट ने दिए ऐसे संकेत

जयपुर। भले ही बसपा छोड़ कांग्रेस में आए विधायक अशोक गहलोत सरकार में मंत्री पद लेने का सपना देख रहे हो, लेकिन प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने इशारों-इशारों में ये संकेत दे दिए है कि मंत्रिमंडल विस्तार में इन नेताओं को जगह नहीं मिलेगी।

गैर सरकारी शिक्षण संस्थान अब नहीं कर सकेंगे ऐसा, राजस्थान सरकार ने जारी किए दिशा निर्देश

इससे ये तो पता चलता है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच अभी तक कुछ सही नहीं चल रहा है। बताया जा रहा है कि अशोक गहलोत द्वारा बसपा विधायकों को कांग्रेस में शामिल करने की खबर तक पायलट को नहीं लगी थी।

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में गुरुवार को हुई एक बैठक के बाद प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने संकेत दिया कि मंत्रिमंडल विस्तार और निगम बोर्डों की नियुक्तियों में कमर्ठ कांग्रेस कार्यकर्ताओं को वरीयता मिलेगी। इस दौरान पायलट कहते नजर आए कि सभी बसपा विधायक बिना शर्त पार्टी में शामिल हुए है।

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर अब राजस्थान सरकार जनता को देने जा रही है ये बड़ा तोहफा

संगठन के लोगों को सत्ता में भागीदारी को लेकर सचिन पायलट ने कहा कि हम ऐसा मैकेनिज्म बना रहे हैं जिससे उन कार्यकर्ताओं को भागीदारी मिले जिनके दम पर पार्टी सत्ता में आई है। इससे एक बात तो साफ हो गई कि हाल ही कांग्रेस में शामिल हुए बसपा विधायकों को अभी सत्ता का सुख नहीं मिल पाएगा।

Related News

Leave a Comment