यह दुनिया की सबसे महंगी जेल है, जहां एक कैदी पर 93 करोड़ खर्च किए जाते हैं!

आमतौर पर जब भी जेल का नाम दिमाग में आता है, तो मन में कई सवाल उठते हैं। जैसे कि वहां सुरक्षा, कैदियों के खाने-पीने की व्यवस्था क्या होगी। लेकिन क्यूबा में एक ऐसी जेल है, जहां इन सब बातों को सोचने का कोई मतलब नहीं है क्योंकि करोड़ों रुपये सिर्फ एक कैदी पर खर्च होते हैं। यही कारण है कि इस जेल को दुनिया की सबसे महंगी जेल कहा जाता है।


इस जेल का नाम गुआंतानामो बे जेल है। इस जेल को इसका नाम मिला क्योंकि यह गुआंतानामो बे के तट पर स्थित है। अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, इस जेल में वर्तमान में 40 कैदी हैं और प्रत्येक कैदी लगभग 93 करोड़ रुपये सालाना खर्च करता है।


आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि इस जेल में 40 कैदियों की सुरक्षा के लिए लगभग 1800 सैनिक तैनात हैं। इसमें प्रति कैदी लगभग 45 सैनिक कार्यरत हैं। हर साल जेल की सुरक्षा में तैनात सैनिकों पर लगभग 3900 करोड़ रुपये खर्च होते हैं।


अब आप सोच रहे होंगे कि इस जेल में कैदियों को इतनी बेहतर सुरक्षा क्यों दी जाती है? तो आपको बता दें कि इस जेल में कई ऐसे अपराधी रखे गए हैं, जो बहुत ही खतरनाक हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 9/11 हमले का मास्टरमाइंड खालिद शेख मोहम्मद भी इसी जेल में कैद है।


जेल में तीन इमारतें, दो खुफिया मुख्यालय और तीन अस्पताल भी हैं। इसके अलावा, यहां वकीलों के लिए अलग परिसर भी बनाए गए हैं, जहां कैदी उनसे बात कर सकते हैं। स्टाफ कैदियों के लिए चर्च और सिनेमा की वीआईपी व्यवस्था भी है, जबकि अन्य कैदियों के खाने के लिए जिम और प्ले स्टेशन भी बनाए गए हैं।


अमेरिका के पास पहले गुआंतानामो बे में एक नौसेना बेस था लेकिन बाद में एक निरोध केंद्र में बदल दिया गया था। संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश ने यहां एक परिसर का निर्माण किया, जहां आतंकवादियों को रखा गया था। जिसे कैंप एक्स-रे नाम दिया गया था?



Source : heraldspot

Related News

Leave a Comment