आज भारत को पहला राफेल विमान मिलेगा, राजनाथ सिंह पेरिस में करेंगे ये बड़ा काम

नई दिल्ली: भारत को विजयदशमी के मौके पर पहला अत्याधुनिक लड़ाकू विमान राफेल मिलने वाला है। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह इस विशेष अवसर के लिए पेरिस पहुंचे हैं, जहां वह वायु सेना दिवस समारोह में हिस्सा लेंगे। रक्षा मंत्री इस लड़ाकू विमान का अधिग्रहण करेंगे, इसके साथ ही राजनाथ सिंह शास्त्र भी दशहरा के अवसर पर पूजा करेंगे। इस दौरान राजनाथ सिंह फ्रेंच एयरपोर्ट के बेस से भी उड़ान भरेंगे।

बताया जा रहा है कि भारतीय सेना में शामिल होकर राफेल विमान अपनी शक्ति कई गुना बढ़ा देंगे। आपको बता दें कि राफेल का निर्माण डसॉल्ट नाम की एक फ्रांसीसी कंपनी ने किया है। यह एक फाइटर जेट है जिसे हर मिशन पर भेजा जा सकता है। राफेल एक मिनट में 60 हजार फीट की ऊंचाई तक पहुंच सकता है और इसकी ईंधन क्षमता लगभग 17 हजार किलोग्राम है। राफेल विमान 2,223 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ सकते हैं।

राफेल लड़ाकू विमान सभी प्रकार के मौसम में संचालित करने में पूरी तरह से सक्षम है, इसलिए इस विमान को मल्टीरोल लड़ाकू विमान के रूप में भी जाना जाता है। राफेल में 3700 किमी की मारक क्षमता है। इसकी खोपड़ी की सीमा लगभग 300 किलोमीटर है। खोपड़ी एक विशेष प्रकार की मिसाइल है जो जमीन से हवा में उतरने में सक्षम है।

Related News

Leave a Comment