किन्नर की धारदार हथियार से हत्या, आरोपियों ने शव को बोरे में बंद कर फेंका

दुर्ग। शहर में एक किन्नर के हत्या के मामले ने सनसनी फैला दी। किन्नर का शव राजीवनगर के सूनसान इलाके में रविवार की सुबह मिला। शव चादर से लिपटे एक बोरे में बंद था। किन्नर के गले में धारदार हथियार से चोंट के निशान मिले है। यह चोंट उसकी मौत का कारण बनी। पुलिस का कहना है कि आरोपियों द्वारा किन्नर की धारदार हथियार से वार कर हत्या की गई है और शव को बोरे में बंद कर फेंका गया है।

फिलहाल न तो हत्या का कारण और न ही हत्या में लिप्त आरोपियों का पुलिस को कोई सुराग नहीं मिल पाया है। लेकिन जिस बेदर्दी से किन्नर की हत्या की गई है। उसके पीछे पुलिस को किसी बड़े कारण का अनुमान है। मृतक किन्नर सोनू सारथी उर्फ छाया 35 वर्ष गयानगर दुर्ग की निवासी थी। वह केटरिंग का कार्य करती थी। शनिवार की रात साढ़े 9 बजे वह घर से निकली थी।

उसके बाद रविवार की सुबह परिजनों को उसके शव मिलने की खबर मिली। हत्या की घटना से किन्नरों में आक्रोश का माहौल है। खबर पर किन्नर वेलफेयर सोसायटी की प्रमुख कंचन किन्नर व अन्य किन्नर मौके पर पहुंचे। वहीं कोतवाली पुलिस ने इस हत्या की गुत्थी को सुलझाने कार्यवाही तेज कर दी है। मिली जानकारी के मुताबिक मृतक सोनू सारथी उर्फ छाया किन्नर के घर से पुलिस ने एक माह पहले एक 15 माह की बच्ची बरामद की थी। बच्ची की खरीद फरोख्त मामले में उसे जेल की हवा भी खानी पड़ी थी।

बताया गया है कि सोनू किन्नर ने उक्त बच्ची को रायपुर से लाई थी। जिसे अपने घर में रखी हुई थी। सोनू के हत्या को पुलिस इस मामले से भी जोड़कर देख रही है, वहीं उसके परिजनों से भी पुलिस पूछताछ कर रही है।

बताया गया है कि राजीव नगर के सूनसान इलाके में रविवार की सुबह सोनू सारथी उर्फ छाया किन्नर का शव बंद बोरे में मिला था। जिसकी सूचना क्षेत्र की पार्षद के पति गोविंद देवांगन द्वारा कोतवाली पुलिस को दी गई थी। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले को जांच पर लेकर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सक्रिय हो गई।

Leave a Comment