गुजारा भत्‍ता मांगने पर शौहर ने बीवी को दिए तीन तलाक

नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में पेंड्रा थाना क्षेत्र के अंतर्गत अड़भार गांव की निवासी नूरी बेगम की शिकायत पर जुम्मन रिजवी के खिलाफ तीन तलाक का केस दर्ज कर लिया गया है।

नूरी बेगम ने आरोप लगाया है उसका निकाह साल 2005 में रतनपुर निवासी जुम्मन रिजवी से हुआ था। निकाह के कुछ साल बाद जुम्मन ने उसे मारपीट करके घर से निकाल दिया था। पिछले 10 वर्षों से नूरी अपने मायके में रह रही थी।

उसने अदालत में पति से गुजारा खर्च दिए जाने की मांग को लेकर याचिका दाखिल की है। पिछले 12 सितंबर को अदालत में इस मामले की पेशी थी।

पुलिस के मुताबिक, सुनवाई के बाद शाम को जब नूरी बेगम ऑटोरिक्शा से घर जा रही थी तब बीच रास्‍ते में उसका पति जुम्मन मोटरसाइकिल पर सवार होकर आया और उससे झगड़ा करने लगा। जुम्मन ने उससे तीन बार तलाक कहा और रिश्‍ता तोड़ने की बात कहते हुए उससे कथित तौर पर मारपीट की।

जागरण की रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने बताया कि घटना के चार दिन बाद पीडि़ता सोमवार को महिला थाना पहुंची और वारदात की शिकायत दर्ज कराई। पेन्ड्रा थाने की पुलिस ने आरोपी जुम्मन के खिलाफ धारा-294, 323, और 506 के तहत केस दर्ज किया है।

नूरी ने अपनी शिकायत में कहा है कि उसके पति ने उसे तीन बार तलाक कहा और रिश्‍ता खत्‍म करने की बात कही। यही नहीं उसने नूरी बेगम को जान से मारने की धमकी भी दी। 

Related News

Leave a Comment