फिल्मों के माध्यम से सोशल इशू पर बात करेंगे फिल्ममेकर तुषार त्यागी

फिल्म मेकर तुषार त्यागी और प्रोड्यसर रितिका जायसवाल अपनी अपकमिंग शॉर्ट फिल्म सेविंग चिंटू के साथ तैयार है। फिल्म 'सेविंग चिंटू' की कहानी एक इंडियन अमेरिकी गे कपल  की है, जो एक बच्चे को एडाप्ट करने के लिए इंडिया आते है। फिल्म की कहानी में, देश में LGBTQ कम्युनिटी पर बड़ी प्रॉब्लम्स से लेकर बच्चे को एडाप्ट करना और एचआईवी जैसे अन्य सोशियल इशू को दिखाया गया है।

सेविंग चिंटू की कहानी उस समय की है जब पूरे एशिया में LGBTQ लॉ में बदलाव हो रहे थे, उनमें से भारत के सर्वोच्च न्यायालय द्वारा 2018 का फैसला सुनाया गया था। कर इंडियन पीनल कोड के सेक्शन 377 को असंवैधानिक घोषित कर होमोसेक्सुआलिटी को डिक्रिमिनलाइज़ करना और मई 2019 में ताइवान में सेम सेक्स मैरिज का कानून बनाना एशिया के लिए पहला ऐतिहासिक मौका रहा।  फिल्म में प्रोटागॉनिस्ट अपने रिश्ते में इमोशनल और अधिक कॉम्प्लेक्स मुद्दों में चुनौतियों का सामना करते है।

प्रोड्यूसर रितिका जायसवाल का फिल्मों के प्रति लगाव ही उन्हें प्रोडक्शन के रास्ते पर ले गया, उन्होंने कहा, "एक लैंडमार्क जजमेंट के बाद भी इंडिया को एक लंबा सफर तय करना है क्योंकि सेम सेक्स वाले कपल्स को कानूनी तौर पर रिकॉंग्गनाइज नहीं किया जाता हैं। जिससे उनके लिए बच्चे को एडाप्ट करना मुश्किल हो जाता है। लीगल  एक्सेप्टेंस के अलावा   कल्चरल एक्सेप्टेंस को दूर करना भी  एक बड़ा चैलेंज है।”

फिल्म के लीड कास्ट में फिल्म "लाइफ ऑफ पाई" और "इंग्लिश विंग्लिश" फेम आदिल हुसैन हैं, उनके अलावा अमेरिकी एक्टर एडवर्ड सोनेंब्लिक, सचिन भट्ट और इंडियन अभिनेत्री  दीपान्निता  शर्मा और प्रियंका सेथिआ है।

 इंडिया में जन्मे और पले-बढ़े है तुषार  एल ए  बेस्ड फिल्म मेकर हैं, जिन्होंने अपनी फिल्म के लिए कई अवॉर्ड भी जीते हैं। तुषार की प्रीवियस फ़िल्म काशी, भारत सरकार के बेटी बचाओ बेटी पढाओ और स्वच्छ भारत प्रोग्राम को बढ़ावा देती है। यह फिल्म फ्लोरिडा फिल्म समारोह का भी हिस्सा थी। उनकी फिल्म गुलाबी को भी, केनेडा  इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में सराहना मिली थी।तुषार ने कहा, "हमारी फिल्म कई सोशियल इशू से डील करती है। इस फिल्म को बनाना मेरे लिए बहुत महत्वपूर्ण है, फिल्मों के माध्यम से बड़े स्तर पर सोशियल इशू पर जागरूकता पैदा करने का यह एक सही समय है।

तुषार और रितिका पहले भी एकसाथ काम कर चुके है और इस प्रोजेक्ट में वो फिर एकसाथ काम कर रहे हैं। यह फिल्म LGBTQ और HIV / Aids जैसी टॉपिक्स पर आधारित है। स्क्रीनप्ले को कोरी राइट और संयम कुमार ने लिखा है।

सेविंग चिंटू इस साल सनडांस, क्लीवलैंड इंटरनेशनल, एन आर्बर और रिवरन फिल्म फेस्टिवल में पार्टिसिपेट  करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।


Source : upuklive

Related News

Leave a Comment